नारस। थाना भेलूपुर में दिनांक 30 जुलाई 2017 को दर्ज किये गये दुष्‍कर्म के केस में आखिरकार पुलिस की पैरवी काम आयी। वाराणसी की फास्‍ट ट्रैक कोर्ट में अपर सत्र न्‍यायाधीश ने तमाम गवाहों और सबूतों को मद्देनरजर रखते हुए आरोपी को मुजरिम करार दे दिया है।

कोर्ट ने दुष्‍कर्मी हिमांशु सिंह, निवासी विशुनपुर थाना लोहता को धारा 376 में दोष सिद्ध करते हुए 10 वर्ष के कठोर करावास व एक लाख रुपये के अर्थ दण्ड की सजा सुनायी है।

विज्ञापन

पुलिस के अनुसार 30 जुलाई 2017 में भेलूपुर थाने में मुकदमा अपराध संख्‍या 441/17 धारा 376 आईपीसी के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था, जिसकी पैरवी प्रभारी निरीक्षक भेलूपुर द्वारा की जा रही थी। इस मामले में दिनांक 6 मार्च 2019 को कोर्ट ने अभियुक्त को दोषी करार देते हुए सजा सुना दी है।

विज्ञापन
Loading...
www.livevns.in का उद्देश्‍य अपनी खबरों के माध्‍यम से वाराणसी की जनता को सूचना देना, शि‍क्षि‍त करना, मनोरंजन करना और देश व समाज हित के प्रति जागरूक करना है। हम (www.livevns.in) ना तो कि‍सी राजनीति‍क शरण में कार्य करते हैं और ना ही हमारे कंटेंट के लिए कि‍सी व्‍यापारि‍क/राजनीतिक संगठन से कि‍सी भी प्रकार का फंड हमें मि‍लता है। वाराणसी जिले के कुछ युवा पत्रकारों द्वारा शुरू कि‍ये गये इस प्रोजेक्‍ट को भवि‍ष्‍य में और भी परि‍ष्‍कृत रूप देना हमारे लक्ष्‍यों में से एक है।