नारस। लोकसभा चुनाव 2019 जैसे जैसे करीब आ रहा है चुनाव आयोग अपने कार्य कर रहा है। चुनाव की अधिसूचना जारी होने में अभी कितना समय है यह नहीं पता पर प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र में चुनाव कराने के लिए इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन और वोटर वेरिफाइड पेपर ऑडिट ट्रेल (वीवीपीएटी ) मशीनों की बड़ी खेप वाराणसी पहुँच गयी है। इन सभी को कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच पहाड़िया मंडी स्थित स्ट्रांग रूम में रखा गया है।

भारत इलेक्ट्रानिक्स लिमिटेड बंगलूरू ने वाराणसी के लिए 4756 बैलेट यूनिट(बीयू), 3518 कंट्रोल यूनिट (सीयू) ओर 3518 वीवीपीएटी भेजा है। इन्हे पहाड़िया मंडी में सुरक्षित रखा गया है। स्ट्रांग रूम के आसपास कोई बाहरी व्यक्ति नहीं फटक सकता ।

बुधवार को ही इन मशीयनों की कंपनी से आए इंजीनियरों ने जांच भी की, जिसमे 57 बीयू,197 सीयू और 316 वीवीपीएटी खराब निकली। इन मशीनों को जिला निर्वाचन कार्यालय ने वापस कर दिया है। अब नए उपकरण बरेली से आएंगे। यह जांच एक हफ्ते तक चलेगी कंपनी के इंजिनियरों का कहना है कि शनिवार तक मतदान से जुड़े सभी उपकरण दुरुस्‍त कर लिए जाएंगे।

लोकसभा चुनाव की तैयारी को लेकर भारत इलेक्‍ट्रॉनिक्‍स लिमिटेड ने 4756 बैलेट यूनिट(बीयू), 3518 कंट्रोल यूनिट (सीयू) ओर 3518 वीवीपीएटी भेजा है। इन्‍हें पहड़िया मंडी के स्‍ट्रॉन्ग रूम में रखा गया है। सुरक्षा के लिए फोर्स तैनात करने के साथ स्‍ट्रांग रूम के पास किसी भी बाहरी व्‍यक्ति के आने-जाने पर रोक लगा दी गई है।