नारस। पुलवामा आतंकी हमले के जवाब में भारत ने एयर स्ट्राइक से पकिस्तान से बदला लिया जिससे पकिस्तान तिलमिलाया हुआ है और भारत को नुक्सान पहुंचाने की फिराक में हैं। वहीं ब्रिटेन के लंदन में भारतीय हाई कमिशन के सामने शनिवार को आईएसआई समर्थित खालिस्तान समर्थक संगठनों के लोगों और भारतवंशियों संग जमकर झड़प हुई।

ये खालिस्तानी समर्थक भारत विरोधी नारेबाजी कर रहे थे तभी भारतीय हाई कमिशन के बाहर खड़े ब्रिटिश भारतीय से उनकी झड़प हो गई और उन लोगों ने ब्रिटिश भारतियों पर हमला शुरू कर दिया। इस घटना के बाद से पूरे देश से प्रतिक्रियाएं आ रही हैं।

इसी क्रम में हमने वाराणसी के व्यापारी नेता अजित सिंह बग्गा से बात की, उन्होंने एक शब्द में इस हमले के पीछे पकिस्तान का हाथ बताया और कहा कि ये उग्रवादी थे और मुझे ये आशंका है कि ये सिख नहीं हैं उन्हें सिख बनाकर लन्दन में यह बवाल करवाया गया है और यदि वो सिख भी हैं तो उनके विरुद्ध कड़ी से कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए।

उन्होंने यह भी कहा कि जब जब भारत पाकिस्तान के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करता है तब तब खलिस्तान समर्थक सिखों को खड़ा करवाकर भारत के विरुद्ध कार्य करवाता है। सरकार को इसपर कड़ा एक्शन लेना चाहिए। इसका पूरा सिख समाज निंदा करता है।