नारस। आखिरकार 17वीं लोकसभा के लिये चुनावों की रणभेरी बज चुकी है। भारत के मुख्‍य चुनाव आयुक्‍त सुनील अरोड़ा ने दिल्‍ली के विज्ञान भवन में प्रेस कॉन्‍फ्रेंस करके इस बात की जानकारी दी है। देश की 543 लोकसभा सीटों के लिये हो रहे आम चुनावों को इस बार सात चरणों में संपन्‍न कराया जाएगा। 10 मार्च से लोकसभा चुनाव 2019 के लिये आचार संहिता लागू हो गयी है। 17वीं लोकसभा के लिये पूरी चुनावी प्रक्रिया आगमी 27 मई तक यानी 78 दिनों तक चलेगी।

19 मई को सातवें यानी आखिरी चरण में वाराणसी के साथ साथ प्रदेश के जिन अन्‍य लोकसभा सीटों पर मतदान होंगे उनमें महराजगंज, गोरखपुर, कुशीनगर, देवरिया, बांसगांव, घोसी, सलेमपुर, बलिया, गाजीपुर, चंदौली, मिर्जापुर और रॉबर्ट्सगंज हैं।

विज्ञापन

वहीं जिस वाराणसी लोकसभा सीट पर पूरे देश की नजरें टिकी हैं वहां सबसे आखिरी चरण में चुनाव प्रक्रिया शुरू होगी। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में आगामी 22 अप्रैल को अधिसूचना जारी होगी। इसके साथ ही प्रत्‍याशियों के नामाकांन की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी, जो 29 अप्रैल तक नामांकन के अंतिम दिन तक चलेगी। इसके बाद 30 अप्रैल को नामाकांन पत्रों की जांच होगी। 2 मई तक नामांकन वापसी के लिये आवेदन किया जा सकता है। चुनाव आयोग के अनुसार वाराणसी लोकसभा सीट के लिये 19 मई को मतदान होंगे। वहीं मतगणना 23 मई को होगी।

देशभर में 17वीं लोकसभा के लिये चुनावों की घोषणा और साथ ही साथ आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद वाराणसी में जिलाधिकारी सुरेन्‍द्र सिंह जिला रायफल क्‍लब में मीडिया से मुखातिब हुए। उन्‍होंने बताया कि वाराणसी जिले में चुनाव को लेकर तैयारियां पूरी कर ली गयी हैं।

ये भी पढ़ें : लोकसभा चुनाव 2019 : सात चरणों में होंगे मतदान, 23 मई को मतगणना, आचार संहिता लागू

देखें वीडियो, वाराणसी में मीडिया से क्‍या बोले जिलाधिकारी सुरेन्‍द्र सिंह

विज्ञापन
Loading...
www.livevns.in का उद्देश्‍य अपनी खबरों के माध्‍यम से वाराणसी की जनता को सूचना देना, शि‍क्षि‍त करना, मनोरंजन करना और देश व समाज हित के प्रति जागरूक करना है। हम (www.livevns.in) ना तो कि‍सी राजनीति‍क शरण में कार्य करते हैं और ना ही हमारे कंटेंट के लिए कि‍सी व्‍यापारि‍क/राजनीतिक संगठन से कि‍सी भी प्रकार का फंड हमें मि‍लता है। वाराणसी जिले के कुछ युवा पत्रकारों द्वारा शुरू कि‍ये गये इस प्रोजेक्‍ट को भवि‍ष्‍य में और भी परि‍ष्‍कृत रूप देना हमारे लक्ष्‍यों में से एक है।