नारस। पिछले कई महीनो से महामना की बगिया अपने छात्रों के द्वारा शर्मसार हुई है, जिसमे बीएचयू के साख में बट्टा लगाने का काम वहां की चीफ प्रॉक्टर ने भी किया है।

वही मंगलवार को एक बार बीएचयू के आर्ट संकाय के पास स्थित चाय की दूकान के पास अभिजीत मिश्रा को उसके ही फैकल्टी के छात्र पवन मिश्रा ने गन की मुठिया से मारकर उसका सर फोड़कर गंभीर रूप से घायल कर दिया, उसके बाद पवन मिश्रा उसे जबरदस्ती गाड़ी में लाद कर हॉस्टल ले जाने लगा।वही जब इस घटना की सूचना अन्य छात्र मौके पर पंहुचे तो पवन मिश्रा वहां से फरार हो गया।

इस घटना के संबध में घायल छात्र अभिजीत ने बताया कि पवन को मुख्य सुरक्षाधिकारी का संरक्षण प्राप्त है और ये हमेशा अवैध असलहा लेकर घूमता है।

इस घटना से आक्रोशित छात्रों ने आरोपी छात्र पवन मिश्रा की गिरफ्तारी की मांग को लेकर बीएचयू के सिंहद्वार पर धरने पर बैठ गए और बीएचयू प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

वही धरने की सूचना पर पंहुचे क्षेत्राधिकारी भेलूपुर अनिल कुमार और इंस्पेक्टर भारत भूषण तिवारी के आश्वासन के बाद छात्रों ने धरना समाप्त किया।