नारस। शुक्रवार को बसंत महिला महाविद्यालय राजघाट के राष्ट्रीय सेवा योजना की पांचों इकाई का विशेष शिविर संपन्न हुआ।जिसमें वसंत महिला महाविद्यालय राजघाट वाराणसी के राष्ट्रीय सेवा योजना की पांच इकाइयों को कार्यक्रम अधिकारी डॉक्टर परवीन सुलताना, डॉक्टर मीनू अवस्थी, डॉ कल्पना अग्रवाल और डॉ वेद प्रकाश रावत तथा डॉ राजेश चौधरी द्वारा 9 मार्च से 15 मार्च तक सात दिवसीय विशेष शिविर आयोजित की गई।

पांच इकाई में हुआ शिविर का विभाजन 

इस शिविर में इकाई एबीसीडीई द्वारा सराय मोहन, राजापुर में विभिन्न समाज सेवा के कार्य एवं श्रमदान किए गये । इकाई ए. एवं एवं सी. द्वारा महाविद्यालय परिसर में अभियान चलाकर औषधि पौधरोपण, मलिन बस्तियों में स्वास्थ्य समस्याओं संबंधी जागरूकता, किरण पुनर्वास केंद्र माधवपुर में दिव्यांग बच्चों की चुनौतियां का अवलोकन एवं उनकी देखरेख किया गया।

 

इकाई बी ने महाविद्यालय परिसर में चलाया जागरूकता अभियान

वही  इकाई बी द्वारा ‘युवा एवं योग’ कार्यक्रम इकाई ई. द्वारा महाविद्यालय परिसर में स्वच्छता संबंधी पोस्टर प्रतियोगिता एवं एचआईवी एड्स के प्रति जागरूकता व सर्वेक्षण कार्य किया गया।

इकाई सी ने  सराय मोहन गांव में बांटा सेनेटरी पैड   

इसके साथ ही राष्ट्रीय सेवा योजना के इकाई सी द्वारा सराय मोहन गांव में सेनेटरी पैड बाटा गया एवं इसके प्रति जागरूकता का कार्य संपन्न हुआ।

इकाई डी ने राजापुर गांव की महिलाओं को किया साक्षर

जबकि  इकाई डी ने ‘संपर्क’ संस्था के साथ मिलकर राजापुर गांव की महिलाओं को साक्षर करने का कार्य किया।इसमें महिलाओं को जोड़,घटाना एवं भाग करना सिखाया गया। साथ ही  हस्ताक्षर करना भी सिखाया गया।

कोटवा गांव में लगाया निशुल्क महिला चिकित्सा शिविर

राष्ट्रीय सेवा योजना द्वारा निशुल्क महिला चिकित्सा शिविर का आयोजन  राजकीय आयुर्वेद चिकित्सालय के सहयोग से अच्युत पटवर्धन जूनियर हाई स्कूल कोटवा गांव में लगाया गया।

निकाली मतदाता जागरूकता रैली

इसके साथ ही  मतदाता जागरूकता रैली भी निकाली गई जिसमें नुक्कड़ नाटक के माध्यम से लोगों को मतदान हेतु जागरूक किया गया। राष्ट्रीय सेवा योजना की छात्राएं सारनाथ को भ्रमण के लिए भी गई।

इकाई सी ने कुष्ठ रोगियों में किया वस्त्र वितरण

राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई सी की छात्राओं ने सारनाथ के कुष्ठ आश्रम जाकर वहां पर उन्होंने कुष्ठ रोगियों के साथ बातचीत की एवं उनके बीच वस्त्रों  का वितरण किया। सातवें दिन 15 मार्च  को पांचों शिविर का समापन समारोह आयोजित किया गया।

इस अवसर पर महाविद्यालय की प्राचार्या  एवं कार्यक्रम की मुख्य अतिथि डॉ अलका सिंह ने कहा कि युवाओं के सर्वांगीण विकास के लिए राष्ट्रीय सेवा योजना आवश्यक है।इसके लिए यह आवश्यक है की छात्राओं में सामाजिक कार्यों की भावना विकसित हो।

मुख्य अतिथि डॉ अलका सिंह का स्वागत डॉ कल्पना अग्रवाल व डॉ परवीन सुलताना के द्वारा किया गया । इस अवसर पर छात्राओं द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन हुआ।

डॉ वेद प्रकाश रावत ने पीपीटी के द्वारा सात दिवसीय शिविर की रिपोर्ट प्रस्तुत की।  इस शिविर को लेकर डॉ. मीनू अवस्थी व डॉक्टर राजेश चौधरी एवं छात्र-छात्राओं द्वारा अपने-अपने  अनुभव व्यक्त किए गये। कार्यक्रम का संचालन कृष्णा व्यास तथा इशिता श्रीवास्तव ने  किया