नारस। चौकाघाट-लहरतारा फ्लाईओवर के संशोधित बजट को राज्‍यपाल की मंज़ूरी मिल गई है। इसी के साथ अब कार्यदायी संस्था को अगले 6 महीने में यह कार्य पूरा कर के पुल को प्रशासन के हैंड ओवर करना होगा। पांच साल पहले शुरू हुए इस प्रोजेक्‍ट का शुरुआती बजट 77 करोड़ रुपये था जो कि अब 185 करोड़ रुपये पर पहुँच गया है। अब राज्यपाल ने इसके संशोधित बजट 171 करोड़ पर मुहर लगा दी है। राज्य सरकार जल्द ही यह बजट जारी कर देगी।

अक्टूबर 2019 में पूरा होना है कार्य
सेतु निगम के अधिकारी ने बताया कि चौकाघाट लहरतारा फ्लाईओवर के विस्तारीकरण के तहत साल 2015 से 2018 के बीच इस पुल का निर्माणकार्य होना चाहिए था। अब तक 60 प्रतिशत कार्य सिर्फ मुकम्मल हो पाया है। 16 मई 2018 को हुए हादसे के बाद इस पुल में कई सारी तब्दीलियां की गयी हैं जिसके बाद इसकी ड्यू-डेट अक्टूबर 2019 रखी गयी है।

विज्ञापन

मिलेंगे और 42 करोड़
इस पुल के निर्माण के लिए कार्यदायी संस्था सेतु निगम को अभी तक कुल 129 करोड़ रूपये मिल चुके हैं। बचे हुए 42 करोड़ रुपये मिलते ही स्टील बीम का आर्डर भेजा जाएगा, जिसके दो माह बाद बीम कास्ट किया जाएगा। कार्यदायी संस्था सेतु निगम के अधिकारियों के अनुसार सीमेंट और कंक्रीट का कार्य पूरा कर लिया गया है। डेक और पाइलिंग का काम पूरा होने के बाद स्टील बीम लगाने के कार्य में कोई रुकावट नहीं होगी।

हादसे के बाद हुआ परिवर्तन
फ्लाईओवर के बजट में अब तक कई बार परिवर्तन हुआ है। निर्माण कार्य शुरू होने के समय इसका बजट 741.43 लाख रूपये तय हुआ था, पर कार्य शुरू होने के बाद इसकी लागत 130 करोड़ पहुँच गई। 16 मई 2018 के हादसे के बाद इसके निर्माण में स्टील गर्डर को जोड़ा गया, जिससे इसकी लागत अब 185 करोड़ पहुँच गई है, जिसके संशोधित बजट 171 करोड़ पर राज्यपाल ने मुहर लगायी है।

जाम से मिलेगी मुक्ति
चौकाघाट- लहरतारा फ्लाईओवर आने वाले समय में अंधरापुल से कैंट स्टेशन तक लगने वाले जाम से जनता को मुक्ति दिलाने का कार्य करेगा। चौकाघाट से इलाहाबाद की तरफ जाने वाले बड़े वाहन इसके निर्माण के बाद सीधे इस फ्लाईओवर से होते हुए लहरतारा फ्लाईओवर के पास पहुंचेंगे। इससे कैंट रेलवे स्टेशन के सामने और चौधरी चरण सिंह रोडवेज के सामने जाम से मुक्ति मिलेगी।

विज्ञापन
Loading...
www.livevns.in का उद्देश्‍य अपनी खबरों के माध्‍यम से वाराणसी की जनता को सूचना देना, शि‍क्षि‍त करना, मनोरंजन करना और देश व समाज हित के प्रति जागरूक करना है। हम (www.livevns.in) ना तो कि‍सी राजनीति‍क शरण में कार्य करते हैं और ना ही हमारे कंटेंट के लिए कि‍सी व्‍यापारि‍क/राजनीतिक संगठन से कि‍सी भी प्रकार का फंड हमें मि‍लता है। वाराणसी जिले के कुछ युवा पत्रकारों द्वारा शुरू कि‍ये गये इस प्रोजेक्‍ट को भवि‍ष्‍य में और भी परि‍ष्‍कृत रूप देना हमारे लक्ष्‍यों में से एक है।