नारस। 25 अक्टूबर 2018 की शाम शहर के चेतगंज थानांतर्गत जगतगंज में हुई फोटो स्टेट संचालक की हत्या का वाराणसी पुलिस ने सोमवार को सफल अनावरण किया।  वाराणसी पुलिस ने इस ह्त्या में शामिल दो बदमाशों को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है। पकडे गए अभियुक्तों ने पूछताछ में बताया किएक हफ्ते पहले एक फोटो स्टेट कराने के बाद पैसे के लेन देन को लेकर सतीश से हाथापाई हुई थी जिसके बाद अप्राधियोंने इस घटना को अंजाम दिया था।
इस सम्बन्ध में बात करते हुए एसएसपी सुरेश राव आनंद कुलकर्णी ने बताया कि 25 अक्टूबर 2018 को चेतगंज थानांतर्गत जगतगंज में कमला पुस्तक भंडार के मालिक सतीश राय को गोली मारकर घायल कर दिया था, जिनकी अपस्ताल ले जाते समय मौत हो गई थी।  इस सम्बन्ध में हत्यारों की तलाश में पुलिस टीम लगाईं गई थी।  इसी क्रम में रविवार की रात चेतगंज थाना प्रभारी को बजरिए मुखबिर इस हत्याकांड में शामिल अपराधियों के कहीं भागने की फिराक में संस्कृत विश्वविद्यालय वीसी आवास के पास खड़े होने की सूचना मिली।
इस सूचना पर विश्वास करते हुए पुलिस टीम वहां पहुंची तो दो व्यक्ति वहां एक लाल मोटरसाइकिल के साथ मौजूद थे।  जैसे ही पुलिस की जीप वहां रुकी वैसे ही वो भागने लगे पर उन्हें दौड़ाकर पकड़ लिया गया। पकडे गए अपराधियों में से एक ने अपना नाम महावीर अग्रहरि निवासी बड़ी पियरी, थाना चौक जनपद वाराणसी तथा दुसरे ने लालू निवासी बाग़ बरियारसिंह थाना चेतगंज वाराणसी बताया।
इनकी जवब तलाशी ली गई तो एक के पास से एक अदद पिस्टल .32 बोर और दो ज़िंदा कारतूस भी बरामद हुए हैं। एसएसपी ने बताया कि दोनों ही अपराधियों ने इसी पिस्टल से सतीश की ह्त्या की बात कुबूली है।  फिलहाल पकडे गए अभियुक्तों को सम्बंधित धाराओं में जेल भेजा जा रहा है। इन अपराधियों को पकड़ने में प्रभारी निरिक्षक चेतगंज दिनेश प्रकाश पांडेय, उपनिरीक्षक अतुल कुमार प्रजापति, उपनिरीक्षक अर्जुन सिंह, उपनिवृक्षक बैधनाथ सिंह, हेड कांस्टेबल घनश्याम सिंह, कांस्टेबल अमित सिंह और कांस्टेबल अनूप सिंह ने मुख्य भूमिका निभाई है।

विज्ञापन
Loading...
www.livevns.in का उद्देश्‍य अपनी खबरों के माध्‍यम से वाराणसी की जनता को सूचना देना, शि‍क्षि‍त करना, मनोरंजन करना और देश व समाज हित के प्रति जागरूक करना है। हम (www.livevns.in) ना तो कि‍सी राजनीति‍क शरण में कार्य करते हैं और ना ही हमारे कंटेंट के लिए कि‍सी व्‍यापारि‍क/राजनीतिक संगठन से कि‍सी भी प्रकार का फंड हमें मि‍लता है। वाराणसी जिले के कुछ युवा पत्रकारों द्वारा शुरू कि‍ये गये इस प्रोजेक्‍ट को भवि‍ष्‍य में और भी परि‍ष्‍कृत रूप देना हमारे लक्ष्‍यों में से एक है।