नारस। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी का खान-पान से प्रेम किसी से छुपा नहीं है। इसकी बानगी वाराणसी दौरे पर बराबर दिखाई दी है। कभी चौक की गलियों में पूड़ी-कचौड़ी तो कभी लस्सी का गिलास लिए स्मृति ईरानी दिख ही जाती हैं।

ऐसा ही कुछ हुआ मंगलवार को बाबतपुर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के बाहर स्थित पटेल टी शॉप पर, जहां भदोही से वापस लौट रही स्मृति ईरानी का काफिला रुका और उन्होंने पकौड़े का स्वाद चखा। स्वाद उम्दा होने पर स्मृति ने तुरंत दुकानदार के सामने ऑफर रखा कि ‘चलो अमेठी में दूकान खोल लो’, इस पर दुकानदार ने भी जवाब दिया और कहा कि ‘गुजरात से सीख के आया हूं,बनारस में बेच रहा यही काफी है।’

विज्ञापन

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी भदोही में आयोजित विजय संकल्प सभा में शिरकत करने के बाद बाबतपुर एयरपोर्ट वापस दिल्ली जाने के लिए लौटी तो कार्यकर्ताओं ने उन्हें एयरपोर्ट के बाहर ही पटेल टी शॉप पर रोककर उनका स्वागत किया। यहाँ छन रहे गरम ब्रेड पकौड़े और चाय को देखकर स्मृति ईरानी खुद को नहीं रोक पाई और ब्रेड पकौड़ा खाने की इच्छा ज़ाहिर की।

ब्रेड पकौड़ा चखते ही स्मृति ईरानी खुश हो गई और दुकानदार से बोलीं चाय और पकौड़ा काफी अच्छा बनाते हो चलो अमेठी में दुकान खोल लो, जिसपर दुकानदार ने कहा की इसे बनाना गुजरात से सीखकर आया हूं और बनारस में बेच रहा हूं यही बहुत है। इसबात पर स्मृति ईरानी के साथ साथ वहां मौजूद लोग ठहाके लगाकर हंसने लगे।

उसके बाद स्मृतिने दुकानदार से पूछा की गुजराती बोलते हो तो चाय वाले ने कहा की नहीं हमारी ​हिन्दी सबसे बढ़िया है। उसके बाद चाय और पकौड़े का पैसा पूछकर दुकानदार को देने के बाद वे एयरपोर्ट पहुंची तथा विमान से दिल्ली प्रस्थान कर गयीं।

 

विज्ञापन
Loading...