प्रतीकात्मक चित्र

नारस। इस शादी के सीजन में अगर आपने वाराणसी कैंटोनमेंट एरिया के किसी लॉन को बुक किया है तो वैकल्पिक व्यवस्था कर लें। वाराणसी कैंटोनमेंट एरिया में चलने वाले मैरिज लांस पर छावनी बोर्ड अपना शिकंजा कस दिया है। बोर्ड ने एयरफोर्स आफिस के पास एक मैरिज लॉन में होने वाले शादी ब्याह के कार्यक्रमों पर रोक लगा दी है। 39 जीटीसी के कमांडिंग अफसर ब्रिगेडियर हुकुम सिंह बैंसला, एग्जीक्यूटिव अफसर अभिमन्यु सिंह और डिफेंस एस्टेट के एसडीओ ओमप्रकाश के ज्वाइंट आपरेशन से मैरिज लॉन संचालकों में हड़कंप मचा हुआ है।

कैंटोनमेंट एडमिनिस्ट्रेशन ने इस बारे में बताया कि कमर्शियल एक्टिविटीज में लगे इस मैरिज लॉन पर पहले भी रोक लगाई गई थी। इसके बाद भी कमर्शियल एक्टिविटीज चलती रहीं. कैंटोनमेंट बोर्ड के जूनियर इंजीनियर सचिन श्रीवास्तव ने बताया कि यह कार्रवाई कैंटोनमेंट बोर्ड अधिनियम के तहत की गई। नियम यह है कि कैंटोनमेंट बोर्ड इलाके में डिफेंस एस्टेट की परमिशन के बिना किसी भी रेजिडेंस में कमर्शियल एक्टिविटी नहीं कि जा सकती।

विज्ञापन

इस मामले में वाराणसी ने कैंटोनमेंट बोर्ड ने ऐसे आठ मैरिज लॉन की पहचान की है, जहां कमर्शियल एक्टिविटीज चलती हैं। हालांकि इसको रोकने के लिए डिफेंस एस्टेट डिपार्टमेंट ने जगह-जगह चेतावनी भरे बोर्ड लगाए हुए हैं। डिफेंस एस्टेट ने कमर्शियल एक्टिविटीज करने वाल मैरिज लान्स को पब्लिक नोटिस जारी कर सूचना भी दी थी।

इस मामले में मैरिज लान्स में प्रोग्राम बुक करा चुके आयोजक का कहना था कि लॉन चलाने वालों ने उन्हें गुमराह किया है। जब इस इलाके में कमर्शियल एक्टिविज़ पर रोक है लॉन कैसे बुक कर दिया गया। अब ऐसे आयोजकों के सामने समस्या है कि शादी सामने है तो अब कहां जाएं?

विज्ञापन
Loading...
www.livevns.in का उद्देश्‍य अपनी खबरों के माध्‍यम से वाराणसी की जनता को सूचना देना, शि‍क्षि‍त करना, मनोरंजन करना और देश व समाज हित के प्रति जागरूक करना है। हम (www.livevns.in) ना तो कि‍सी राजनीति‍क शरण में कार्य करते हैं और ना ही हमारे कंटेंट के लिए कि‍सी व्‍यापारि‍क/राजनीतिक संगठन से कि‍सी भी प्रकार का फंड हमें मि‍लता है। वाराणसी जिले के कुछ युवा पत्रकारों द्वारा शुरू कि‍ये गये इस प्रोजेक्‍ट को भवि‍ष्‍य में और भी परि‍ष्‍कृत रूप देना हमारे लक्ष्‍यों में से एक है।