लंका पुलिस ने नकली सीमेंट के गोरखधंधे का किया भंडाफोड, 4 गिरफ्तार 

0
163

नारस। लंका पुलिस ने गुरुवार को नकली सीमेंट का कारोबार कर रहे गिरोह का भंडाफोड़ करने में सफलता प्राप्त की है।पुलिस ने  इस गोरखधंदे में लिप्त चार अभियुक्तों को नुआंव के पास से गिरफ्तार कर लिया है। जिनके पास से पुलिस ने दो ट्रैक्टर ट्राली सहित 310 नकली सीमेंट की बोरी बरामद किया है।

पुलिस के अनुसार गिरफ्तार अभियुक्त संदीप पटेल एवं  नुआंव सब्जी मण्डी थाना लंका, बिन्दु बिन्द  भदौरा, थाना चैनपुरा, भभुआ बिहार, राधेश्याम पपंकज सिंह टनवा, थाना रामनगर के रहने वाले है।

इस गिरफ्तारी के संबंध में प्रभारी निरीक्षक भारत भूषण तिवारी ने बताया कि हमारी पुलिस टीम डाफी तिराहे के पास चेकिंग अभियान चला रही थी कि उसी समय मुखबिर से सूचना मिली कि नुआंव में काफी दिनो से नकली सीमेन्ट का कारोबार हो रहा है नकली सीमेन्ट को लाकर उसे असली सीमेन्ट की बोरियों में भरकर महंगे दामों में असली सीमेन्ट बताकर बेचने का धन्धा चल रहा है।

इस सूचना पर विश्वास करके हमारी पुलिस टीम मौके पर पंहुचकर चार अभियुक्तों को नकली सीमेंट के साथ गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस के पूछताछ में अभियुक्तों ने बताया कि  हम लोग रामनगर औद्योगिक क्षेत्र रामनगर से मैहर गोल्ड नामक नकली सीमेंट  लेकर आते है तथा भठ्ठे के पास स्थित गोदाम में ले जाकर एसीसी सीमेंट के असली बोरो में मैहर गोल्ड सीमेन्ट के बोरो को पलट कर मशीन से मुँह की सिलाई कर असली एसीसी  सीमेंट  के रुप में ग्राहकों को सप्लाई कर देते है।

वही लंका पुलिस ने बताया कि आसपास के जिलों में छोटी छोटी मात्रा में नकली सीमेंट की सप्लाई हुई है जिसकी अभी पूछताछ जारी है।

गिरफ्तारी करने वाली पुलिस टीम में प्रभारी निरीक्षक  भारत भूषण तिवारी, सब इंस्पेक्टर शैलेन्द्र प्रताप सिंह, सब इंस्पेक्टर घनश्याम शुक्ल, सब इंस्पेक्टर प्रकाश सिंह, सब इंस्पेक्टर  अश्वनी कुमार राय, हेड कॉन्स्टेबल प्रो0 वकील मोहम्मद, हेड कॉन्स्टेबल सुनील कुमार राय, हेड कॉन्स्टेबल  आदित्य कुमार राय, कॉन्स्टेबल  रितुराज, कॉन्स्टेबल आशीष मिश्रा, कॉन्स्टेबल विनय कुमार,  कॉन्स्टेबल अरविन्द कुमार साहनी शामिल रहे।