वाराणसी पुलिस के हत्थे चढ़ा 12 हजार का इनामिया अपराधी, शौक पूरा करने के लिए करता था चोरी

0
49

नारस। लोकसभा चुनाव को लेकर वाराणसी पुलिस द्वारा अपराधियों के खिलाफ चलाये जा रहे अभियान के तहत शुक्रवार को कैंट पुलिस की टीम ने पंचवटी लान के पासे 12 हजार इनामिया अपराधी को गिरफ्तार कर लिया है। जिसके पास से पुलिस ने 1 तमंचा 315 बोर तथा 2 जिंदा कारतूस बरामद किया है।

गिरफ्तार इनामिया अपराधी रोहित पटेल खरी उन्दी थाना शिवपुर का रहने वाला है, जिसके ऊपर वाराणसी जिले के थानों में कई मुक़दमे दर्ज है।

इस अपराधी के गिरफ़्तारी के संबंध में एसएसपी सुरेश राव आनंद कुलकर्णी ने मीडिया से बताया कि रोहित पटेल एक शातिर किस्म का अपराधी है, जिसके ऊपर वाराणसी जिले के थानों में कई मुक़दमे दर्ज है, जिसको लेकर वाराणसी पुलिस ने उसके ऊपर 12 हजार रुपये का इनाम रखा हुआ था, जिसे आज हमारी पुलिस टीम ने अदम्य साहस का परिचय देते हुए गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस के पूछताछ में गिरफ्तार अपराधी ने अपना जुर्म कबूलते हुए बताया कि मैं पहले गुजरात में रहकर मूर्ति बनाने का काम किया करते थे काम के दौरान मेरी मुलाकात मनोज कुमार पटेल अमरदीप पटेल से हुई। हम लोग एक ही जिले के होने के नाते मित्रता बढ़ गयी और वापस आने पर ज्यादा पैसा कमाने के लालच में बैंकों में चोरी करने का इरादा बनाया चूंकि मै रोहित वेल्डिंग का काम करता था और गैस कटर से कटिंग करने में माहिर था।

बैंको में करते थे चोरी

हम लोगों ने कैट क्षेत्र के बड़ा लालपुर के सिड़ीकेट बैंक में 27 दिसंबर 2018 को स्ट्रांग रूम को रात्रि में काटने का प्रयास किये थे तथा 24 नवंबर 2018 को थाना कपसेठी के स्टेट बैक की शाखा से गैस कटर से स्ट्रांग रूम को काटने का प्रयास किये थे तथा हम लोग बैंकों के सीसीटीवी फुटेज में आ गये थे।

24 जनवरी को हम तीनों लोग कैंट पुलिस और क्राइम ब्रांच द्वारा पकड़े गये थे। मेरा साथी मनोज कुमार पटेल वर्तमान समय में जेल में बंद है तथा मेरा दूसरा साथी अमरदीप पटेल रात्रि में मौका पाकर फरार हो गया।

वही हम लोग बिहार, चन्दौली, मिर्जापुर, गाजीपुर, सोनभद्र, जौनपुर में विभिन्न बैंको को गैस कटर से काटने का प्रयास किये थे। इसके अलावा हम लोग कई जगहो पर चोरी के घटनाओ को अन्जाम दिये है।

कैंट के एक बैंक में लूट की नियत से आया था

हम लोग मंहगे कपड़े जुते जुआ खेलना और अपनी गर्लफ्रेन्ड के लिये महंगे महंगे गिफ्ट खरीदकर देते थे। आज मैं रोहित पटेल और अमरदीप पटेल कैंट क्षेत्र में बैंक को निशाना बनाने वाले थे कि आप लोगो द्वारा मुझे पकड़ लिया गया और मेरा साथी अमरदीप पटेल फरार होने में कामयाब रहा।

गिरफ्तारी करने वाली पुलिस टीम में सब इंस्पेक्टर ओमप्रकाश, सब इंस्पेक्टर अशोक कुमार, सब इंस्पेक्टर काशीनाथ उपाध्याय, हेड कॉन्स्टेबल धर्मदेव चौहान, हेड कॉन्स्टेबल प्रेम सिंह, कॉन्स्टेबल रामानन्द यादव,कॉन्स्टेबल संतोष साह, कॉन्स्टेबल पंकज सिंह, कॉन्स्टेबल विपिन गुप्ता शामिल रहे।