वाराणसी इम्बार्केशन से ‘एहराम’ बांधकर मुक़द्दस हज यात्रा पर रवाना होंगे ज़ायरीन

0
25

नारस। लगतार उठ रही मांगों के बीच इस बार वाराणसी इम्बार्केशन से मुक़द्दस हज पर जाने वाले ज़ायरीन सीधे पवित्र शहर मक्का जायेंगे। इस पवित्र शहर जाने के लिए व्यक्ति को पवित्र एहराम (बिना सिले दो कपडे) पहनने होते हैं। ऐसे में इस बार ज़ायरीन वाराणसी से ही एहराम बांधकर मुक़द्दस सफर पर निकलेंगे।

सेंट्रल हज कमेटी के सदस्य डॉ इफ़्तेख़ार अहमद जावेद के अनुसार दस साल बाद एक बार फिर वाराणसी से मक्का शहर के लिए ज़ायरीनों को सीधी उड़ान दी जाएगी। पहले ज़ायरीन मदीना जाते थे और वहां से मक्का जाते थे।

इस सम्बन्ध में बात करते हुए सेंटर हज कमेटी के सदस्य डॉ इफ़्तेख़ार अहमद जावेद ने बताया कि पूरे देश से मुक़द्दस हज के सफर पर जाने वाले ज़ायरीन इस बात की मांग कर रहे थे कि उन्हें सीधे मक्का भेजा जाए नाकि मदीना के रास्ते मक्का। इसपर अमल करते हुए इस बार भारत सरकार सऊदी सरकार से बातचीत के बाद देश के 22 में से 12 इम्बार्केशन केंद्रों से हज ज़ायरीनों की सीधी फ्लाइट मक्का शहर के लिए निर्णय लिया गया है।

देश के वाराणसी, अहमदाबाद, औरंगाबाद, भोपाल, चेन्नई, हैदराबाद, जयपुर, कोलकाता, लखनऊ, मुंबई, नागपुर और रांची इम्बार्केशन केंद्र से ज़ायरीनों को सीधे मक्का के जेद्दा एयरपोर्ट भेजा जाएगा।