BHU के छात्र गौरव की हत्या में शामिल रुपेश तिवारी को पुलिस ने भेजा जेल

0
48

नारस। काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के छात्र गौरव सिंह की ह्त्या में शामिल छात्र रुपेश तिवारी को शुक्रवार को पुलिस ने जेल भेज दिया। पुलिस के अनुसार रुपेश ने भी गौरव को लक्ष्य करके फायरिंग की थी। रुपेश उसी दिन छात्रों से मारपीट में घायल हो गया था और उसका इलाज दीन दयाल जिला चिकित्सालय में चल रहा था। वहीं इस हत्याकांड में शामिल बिहार के ‘प्रोफ़ेसर’ और ‘रावण’ के अलावा एक अन्य विनय की गिरफ्तारी के लिए वाराणसी पुलिस और क्राइम ब्रांच की कई टीमें लगी हुई हैं।

इस सम्बन्ध में बात करते हुए लंका थाना प्रभारी भारत भूषण तिवारी ने बताया कि बीएचयू के निष्कासित छात्र गौरव सिंह की ह्त्या में मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ के धर्मपुरा निवासी छात्र रुपेश तिवारी को शुक्रवार को सम्बंधित धाराओं में जेल भेज दिया गया है। रुपेश गोलीकांड के बाद छात्रों के हत्थे चढ़ गया था और उसे छात्रों ने मारपीट के घायल कर दिया था। उसका इलाज चल रहा था।

भारत भूषण तिवारी ने बताया कि रुपेश, विनय और बिहार से आए रावण और प्रोफ़ेसर ने गौरव पर फायरिंग की थी। चारों पिस्टल का इंतज़ाम प्रोफ़ेसर और रावण ने किया था। दो पिस्टल रुपेश ने फरार विनय को दे दी थी और एक को बीएचयू के कैंसर हॉस्पिटल के पास छुपा दिया था जिसे उसकी निशानदेही पर बरामद किया गया है। इसके अलावा एक पिस्टल प्रोफ़ेसर और रावण लेकर चले गए थे।