नारस। बीएसएफ के खाने को लेकर वीडियो वायरल करने वाले बीएसएफ के बर्खास्त जवान तेज बहादुर यादव ने प्रधानमंत्री के विरुद्ध चुनाव लड़ने का एलान किया है। इस एलान के बाद तेज बहादुर यादव आज वाराणसी पहुंचे हैं। यहां उन्होंने चुनावी ताल ठोक दी है। पराड़कर स्मृति भवन में मीडिया से मुखातिब होने के बाद अपने सहयोगियों के साथ सेना की वर्दी में तेज बहादुर यादव ने लोगों से अपने पक्ष में वोट करने की अपील की।

तेज बहादुर का यह अंदाज़ लोगों को उनकी तरफ आकर्षित तो कर रहा था पर लोग दबी ज़ुबान इसे भारत निर्वाचन आयोग की गाइड लाइन का उल्लंघन भी मान रहे थे क्योंकि भारत निर्वाचन आयोग ने इस चुनाव में सेना से संबंधित किसी भी चीज़ के चुनाव के लिए इस्तेमाल करने पर रोक लगा रखी है। वहीं तेज बहादुर यादव बीएसएफ से बर्खास्त होने के बावजूद बीएसएफ की वर्दी मे दिखे।

विज्ञापन

असली चौकीदार को पहचानिये
इस दौरान तेज बहादुर ने दुकानदारों से मिलकर उनसे पाने पक्ष में वोट देने की अपील की और कहा कि असली चौकीदार को पहचानिये नकली को छोड़िये। उन्होंने कहा कि हम इस बार यहां से चुनाव जीत रहे हैं इसके प्रति हम आश्वस्त हैं। उन्होंने सीएम योगी के मोदी के सेना वाले बयान पर कहा कि यह गलत है और इसपर देशद्रोह का मुकदमा होना चाहिए।

आयोग कहेगा तो उतार देंगे वर्दी
वहीं जब तेज बहादुर से पूछा गया कि आप ने बीएसएफ की वर्दी पहनी हुई है और चुनाव आयोग ने इसपर सख्ती से रोक लगाईं है तो उन्होंने कहा कि यदि यह उल्लंघन है और चुनाव आयोग कहता है तो मै इसे उतार दूंगा।

विज्ञापन
Loading...