नारस। भारतीय जनता पार्टी के अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ द्वारा नित्य प्रधानमंत्री के पक्ष मे जनाधार बनाने का कार्य चल रहा है। इसी क्रम में अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ की काशी प्रांत मीडिया प्रभारी हुमा बानो के नेतृत्व में सैंक़ड़ो मुस्लिम महिलाओं ने शहर के रेवड़ी तालाब क्षेत्र में नरेंद्र मोदी को अपना समर्थन दिया। मुस्लिम महिलाओं ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हमारे सांसद हैं और हम दुबारा उन्हें अपने सांसद के रूप में देखना चाहते हैं क्योंकि मोदी है तो मुमकिन है।

मुस्लिम महिला रेशमा परवीन ने इस मौके पर कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हमें सदियों से चली आ रही तलाक की दुश्वारियों भरी प्रथा से पांच साल में मुक्ति दिलाई है। कितनी ही मुस्लिम बहने हैं जो इस तीन तलाक के दंश को आज भी झेल रही हैं और उससे उबर नहीं पायी हैं। हमें प्रधानमंत्री और हमारे लोकप्रिय सांसद नरेंद्र मोदी ने इस नरक से आज़ादी दिलाई है।

वहीं तलाकशुदा महिला ने बताया कि मेरे पति ने मुझे फोन पर तीन तलाक कह दिया और उसके बाद मेरा तलाक मान लिया गया। आज 12 साल हो गए इस तलाक को पर मेरे पति ने मुझे पूछा तो नहीं हाँ दूसरी शादी ज़रूर कर ली। प्रधानमंत्री जी ने हमारे समाज की बहनों को तीन तलाक की इस कुप्रथा से बचाया है। इसलिए हम सब मोदी जी के साथ हैं क्योंकि मोदी हैं तो मुमकिन हैं।

लगातार मुस्लिम महिलाओं के बीच जाकर भाजपा के लिए जनाधार बना रही मुस्लिम प्रकोष्ठ की काशी प्रांत मीडिया प्रभारी हुमा बानो ने कहा कि मुस्लिम महिलाओं के लिए प्रधानमंत्री ने जो काम किया है शायद ही वो कोई सरकार सोच भी पाती। इसलिए मुस्लिम महिलाएं उनके साथ हैं।

विज्ञापन