बनारस के लाल विशाल ने विदेशी धरती पर जीता गोल्ड मेडल, गांव पंहुचने पर हुआ जोरदार स्वागत

0
89

नारस। वाराणसी के लाल विशाल गुप्ता ने बुल्गारिया में आयोजित चौथे अंतरराष्ट्रीय यूथ एंड बॉक्सिंग टूर्नामेंट में स्वर्ण पदक जीतकर देश और अपने जिले का नाम रोशन किया है।जिसका अपने घर मोहनसराय क्षेत्र के कनेरी गांव में पंहुचने पर सामाजिक संगठनो और पुरे गांव ने अपने इस लाल का जोरदार स्वागत किया।

पिता बेचते है सब्जी

विशाल के पिताजी श्यामधर गुप्ता मोहन सराय चौराहे पर सब्जी की दुकान चलाते है। विशाल ने अपनी इस जीत का श्रेय अपने माता पिता को दिया। उन्होंने बताया कि उनकी सफलता के पीछे उनके माता पिता का बहुत बड़ा योगदान है।

उन्होंने उनकी सफलता के लिए बहुत बड़ा त्याग किया है। साथ ही विशाल ने अपनी जीत का श्रेय अपने कोच दिलीप सिंह को भी दिया।

विशाल ने कजाकिस्‍तान के रोमन डेयर को हराकर जीता स्‍वर्ण पदक

पहली बार अंतरराष्‍ट्रीय टूर्नामेंट में उतरे विशाल गुप्ता ने 2 अप्रैल को मेजबान देश के स्‍टोव जार्जी को 5-0 से हराकर हरा कर अपना रजत पक्का कर लिया था। इसके बाद बीते शुक्रवार को हुए फाइनल में विशाल ने कजाकिस्तान के रोमन डेयर को हराकर स्‍वर्ण पदक जीत लिया।

विशाल ने 2015 से 2018 तक सिगरा स्‍टेडियम में दिलीप सिंह से मुक्‍केबाजी की कोचिंग ली थी।विशाल के माता पिता और भाइयों ने बताया कि घर की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं थी इसके बावजूद चार वर्ष पहले विशाल ने पढ़ाई के साथ बॉक्सिंग को चुना सिगरा स्टेडियम में विशाल को पूरी सुविधाएं मिली और उसका खेल निखरा।

देश भर में कई मुकाबला जीतने के बाद पहली बार उसका चयन बुल्गारिया में इंटरनेशनल यूथ बॉक्सिंग कंपटीशन में जाने वाली टीम में चयन हुआ।

रविवार को सामाजिक कार्यकर्ता राजकुमार गुप्ता के नेतृत्व में विभिन्न सामाजिक संगठनों ने विशाल के आवास पर जाकर उनकी कामयाबी उपलब्धियों पर बधाई देकर हौसला अफजाई करके स्वागत किया।

स्वागत करने वालों में विजय बहादुर, आलोक चौबे, शिव कुमार गुप्ता, श्याम पांडे, संदीप, आकाश, सुनील, ओम प्रकाश आदि लोग रहे।