नारस। 2019 लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की उम्मीद बन चुकीं प्रियंका गांधी वाड्रा को वाराणसी लोकसभा सीट से चुनाव लडाने को लेकर सियासी गलियारों में चर्चाएं तेज हो गयी हैं। सूत्रों की मानें तो दिल्ली में बैठे पार्टी के रणनीतिकार प्रियंका गांधी वाड्रा को वाराणसी में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ चुनावी मैदान में उतारने का मन बना चुके हैं।

आखिरी मौके पर चौंका सकती है कांग्रेस
माना जा रहा है कि प्रियंका गांधी आखिरी मौके पर वाराणसी लोकसभा सीट से अपन नामांकन कर सकती हैं। फिलहाल पार्टी की ओर से वाराणसी के कद्दावर नेता डॉ राजेश मिश्रा को देवरिया जिले की सलेमपुर लोकसभा सीट पर चुनाव लडने के लिये भेज दिया गया है, इसके बाद वाराणसी लोकसभा सीट पर प्रियंका गांधी वाड्रा को उतारे जाने के कयासों ने जोर पकड लिया है।

विज्ञापन

अबतक कांग्रेस ने नहीं खोले हैं पत्ते
सूत्रों की मानें तो इस बार पार्टी आलाकमान की ओर से वाराणसी के स्थानीय नेता अजय राय को टिकट दिये जाने की उम्मीदें कम हैं। पार्टी इस बार प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को घेरने के लिये अपने ‘तुरूप के इक्के’ को मैदान में उतार सकती है। यही कारण है कि वाराणसी लोकसभा सीट को लेकर अभी तक कांग्रेस पार्टी ही नहीं महागठबंधन का उम्मीदवार भी फाइनल नहीं हुआ है।

विपक्ष के नेताओं से चल रही है वार्ता
बताया जा रहा है कि कांग्रेस की ओर से विपक्षी दलों के बडे नेताओं से भी इस बारे में बात चल रही है। सपा और बसपा की ओर से हरी झंडी मिलते ही वाराणसी में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के चुनावी रण को चक्रव्यूह में बदलने की कोशिशें परवान चढने लगेंगी। माना जा रहा है कि सब तरु से ग्रीन सिग्नल मिलते ही कांग्रेस पार्टी आखिरी मौके पर वाराणसी लोकसभा सीट के लिये प्रियंका गांधी के नाम की घोषणा कर सकती है। पार्टी के रणनीतिकारों का मानना है कि नरेन्द्र मोदी के खिलाफ समूचे विपक्ष की ओर से प्रियंका के खडे होने से वाराणसी में ना सिर्फ मोदी विरोधी मतों के बिखराव को रोकने में मदद मिलेगी, बल्कि वाराणसी में प्रधानमंत्री की जीत की डगर भी मुश्किल में पड सकती है।

अब बनारस से बलिया तक करेंगेी ‘न्याय यात्रा’
वहीं मार्च महीने में प्रयागराज से वाराणसी तक गंगा नदी के रास्ते बोट शो करने वाली कांग्रेस की महासचिव और पूर्वी उतर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा जल्द ही वाराणसी से बलिया तक गंगा के रास्ते ‘न्याय यात्रा’ करेंगी। इस यात्रा के लिए युवा कांग्रेस के प्रदेश महासचिव राघवेंद्र चौबे को हाल ही में प्रभारी बनाया गया है। राघवेंद्र चौबे की माने तो इस बार गंगा यात्रा का पूरा फोकस पूर्वांचल होगा। इस दौरान प्रियंका गांधी अलग-अलग संसदीय क्षेत्रों में जनसभा और रोड शो भी करेंगी। इस यात्रा का नाम न्याय यात्रा दिया गया है।

कांग्रेस के घोषणापत्र को जनता के बीच रखेंगी
न्याय यात्रा के प्रभारी राघवेंद्र चौबे ने बताया कि प्रियंका की दूसरी गंगा यात्रा बनारस से शुरू होगी और बलिया तक जाएगी। इस दौरान वह कांग्रेस घोषणा पत्र को जनता के बीच रखेंगी। साथ ही पार्टी की ओर से किए जाने वाले कार्यों को जनता के बीच रखेंगी। लोगों को भरोसा दिलाएंगी कि हम (कांग्रेस) जो वादा कर रहे हैं सत्ता में आने पर उसे पूरा करेंगे वह भी जितना समय हमने माँगा है उतने ही समय में।

इस सम्बन्ध में कांग्रेस के पूर्व विधायक अजय राय ने बताया कि प्रियंका गांधी का दूसरा वाराणसी दौरा जल्द ही होने जा रहा है। इसके लिए तैयारियां ज़ोर शोर से शुरू हैं।

विज्ञापन
Loading...
www.livevns.in का उद्देश्‍य अपनी खबरों के माध्‍यम से वाराणसी की जनता को सूचना देना, शि‍क्षि‍त करना, मनोरंजन करना और देश व समाज हित के प्रति जागरूक करना है। हम (www.livevns.in) ना तो कि‍सी राजनीति‍क शरण में कार्य करते हैं और ना ही हमारे कंटेंट के लिए कि‍सी व्‍यापारि‍क/राजनीतिक संगठन से कि‍सी भी प्रकार का फंड हमें मि‍लता है। वाराणसी जिले के कुछ युवा पत्रकारों द्वारा शुरू कि‍ये गये इस प्रोजेक्‍ट को भवि‍ष्‍य में और भी परि‍ष्‍कृत रूप देना हमारे लक्ष्‍यों में से एक है।