नारस। पूर्व में जो लोग चुनाव को प्रभावित कर चुके हैं, या जिसके ऊपर गैंगेस्टर और गुंडा एक्ट में कार्रवाई हो चुकी है उन लोगों को पाबंद करने की करवाई वाराणसी पुलिस ने शुरू कर दी है। इसी क्रम में प्रतिकार यात्रा के बाद रासुका झेल चुके कांग्रेस के टिकट से लोकसभा क्षेत्र वाराणसी से नरेंद्र मोदी के विरुद्ध प्रत्याशी रहे अजय राय को भी स्थानीय थाने ने पाबन्द करते हुए पीला कार्ड जारी कर दिया। इस कार्ड के जारी होते ही कांग्रेस कार्यकर्ता आक्रोशित हो उठे और उन्होंने रविवार देर शाम जिलाधिकारी/ज़िलानिर्वाचन अधिकारी से इसकी शिकायत दर्ज कराई है।

विज्ञापन

किसे जारी होता है ये कार्ड
पूर्व में जो लोग चुनाव प्रभावित कर चुके हैं और उनके विरुद्ध गुंडा एक्ट और गैंगेस्टर की धाराओं में कार्रवाई हुई है उन्हें रेड और यलो कार्ड वाराणसी पुलिस ने जारी किया है। एसपी सिटी दिनेश सिंह ने बताया कि प्रबुद्धजनों को ग्रीन कार्ड जारी किया गया है की वो चुनाव शांतिपूर्वक संपन्न कराने में प्रशासन की मदद करें। इसी क्रम में पूर्व विधायक अजय राय को भी पीला कार्ड जारी किया गया है।

कांग्रेस कार्यकर्ता आक्रोशित
पीला कार्ड जारी होते ही कांग्रेस के पदाधिकारी और कार्यकर्ता आक्रोशित हो उठे। देर शाम कांग्रेस के जिलाध्यक्ष प्रजानाथ शर्मा के साथ बडी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता और पदाधिकारी जिलाधिकारी/ जिला निर्वाचन अधिकारी सुरेंद्र सिंह से मिले और उनसे यह पीला कार्ड वापस लेने की मांग की।

वापस ले प्रशासन पीला कार्ड
इस सम्बन्ध में प्रजानाथ शर्मा ने कहा कि पांच बार के विधायक और मंत्री रहे पूर्व विधायक को पीला कार्ड जारी किया गया है यह पूरी तरह से साजिश है। उन्हें बंदिश में बाँधने की साजिश की जा रही है। उन्होंने कहा कि यह पूरी तरह से एक राजनितिक साजिश का परिणाम है। उन्होंने जिला निर्वाचन अधिकारी से मिलकर उन्हें ज्ञापन सौंपा और पीले कार्ड को वापस करने की मांग की।

विज्ञापन
Loading...