नारस। देश में जब से लोकसभा चुनाव का बिगुल बजा है तब से दल बदल का सिलसिला जारी है। इसी क्रम में रविवार को कांग्रेस प्रत्याशी अजय राय के समर्थन में सपा के पार्षद मकबूल अंसारी ने अपने समर्थको के साथ कांग्रेस का दमन थाम लिया है।

गठबंधन के प्रत्याशी से नाराज होकर छोड़ी पार्टी

विज्ञापन

आप को बता दें कि पार्षद मकबूल अंसारी गठबंधन के प्रत्याशी की घोषणा बाद से ही सपा की नीतियों से काफी नाराज चल रहे थे। पार्षद मकबूल अंसारी और उनके समर्थकों का जिला कांग्रेस अध्यक्ष प्रजानाथ शर्मा ने स्वागत करते हुए कांग्रेस अंगवस्त्रम भेंटकर विधिवत प्राथमिकी सदस्यता दिलाई।आज की अहम बैठक की अध्यक्षता करते हुए कार्यकताओं से प्रजानाथ शर्मा ने कहा कि सोमवार को होने वाले अजय राय के नामांकन में हम सभी को अपनी पूरी ताकत लगानी है। हमारी यही ताकत ही हमारी शक्ति है।

हमारे प्रतिद्वंद्वी ने आयातित भीढ़ के दम पर डंका बजवाया। हमे उसका जवाब अपने कार्यकर्तागणो एवं काशीवासियों की अधिकाधिक भागीदार सुनिश्चित कर देनी है। जनता का समर्थन हमें अग्रिम से प्राप्त है बस आपको उन्हें ससम्मान नामांकन में सम्मिलित करा कर अपने पार्टी दायित्वों का निर्वहन कर अपनी निष्ठा सिद्ध करने की घड़ी आ गई है।

पाखंड को है मिटाना

अजय राय ने भारी संख्या में वाराणसी जनपद से आये अनेकों कार्यकर्ताओं का धन्यवाद देते हुए कहा कि आपकी ताकत ही अजय राय की ताकत है। आप सभी अजय राय हैं न केवल चुनाव तक बल्कि जीतने के बाद पांच साल तक आप लोग मेरे लिए अजय राय ही रहेंगे। आधा से अधिक का संघर्ष हम आप साथ मिलकर जीत चुके हैं बस आखिरी जोर एक बार और लगा दें। हमे भूत भावन भगवान शंकर की नगरी से पाखंड को मिटाना है।

विज्ञापन
Loading...