नारस। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के खिलाफ वाराणसी लोकसभा सीट से निर्दल प्रत्‍याशी और बीएसएफ के पूर्व जवान तेज बहादुर यादव को महागठबंधन का साथ मिल सकता है। चर्चाओं का बाजार गर्म है कि लखनऊ में हुई एक बैठक के बाद तेज बहादुर यादव को महागठबंधन वाराणसी से अधिकृत उम्‍मीदवार घोषित कर सकता है।

वहीं समाजवादी पार्टी की ओर से फिलहाल इस सीट पर घोषित प्रत्‍याशी शालिनी यादव का टिकट कटने की चर्चाएं भी जोरों पर हैं। हालांकि पार्टी की स्‍थानीय इकाई ने इस बारे में अनभिज्ञता जाहिर करते हुए पूरे मामले की सत्‍यता से इनकार किया है।

विज्ञापन

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ रहे पूर्व बीएसएफ जवान तेज बहादुर यादव को विभिन्‍न पार्टियों की ओर से समर्थन मिलने लगा है। शनिवार को वाराणसी में तेज बहादुर की आम आदमी पार्टी के वरिष्‍ठ नेता संजय सिंह से भी मुलाकात हुई थी, इसके बाद ही कयास लगाये जा रहे थे कि तेज बहादुर यादव को बड़े फलक पर विपक्ष का साथ मिल सकता है।

सोमवार को वाराणसी लोकसभा सीट के लिये नामांकन का आखिरी दिन है। समाजवादी पार्टी के महानगर अध्‍यक्ष राजकुमार जायसवाल ने Live VNS को बताया कि उनके पास भी इस बारे में जानकारी के लिये तमाम फोन आ रहे हैं, मगर अभी हमें ऊपर से कोई सूचना नहीं मिली है। हमारी घोषित उम्‍मीदवार शालिनी यादव ही हैं। राजकुमार जायसवाल ने स्‍पष्‍ट किया कि सोमवार को हम सब महागठबंधन के लोग शालिनी यादव जी का नामांकन कराने जा रहे हैं।

इस बारे में बात करने के लिये शालिनी यादव को कॉल किया गया मगर उनसे संपर्क स्‍थापित नहीं हो सका है। वहीं जब हमने तेज बहादुर यादव के कैंपेन मैनेजर राजेश्‍वर से इस मामले में बात की तो उन्‍होंने भी चर्चाओं को तो कबूला, लेकिन आधिकारिक रूप से कुछ भी कहने से इनकार कर दिया है।

विज्ञापन
Loading...