नारस। वाराणसी लोकसभा चुनाव में जितने का दम्भ भरने वाले सपा-बसपा गठबंधन में प्रत्याशियों को लेकर असमंजस की स्थिति बन गयी है। पार्टी के प्रवक्ता और दर्जा प्राप्त मंत्री मनोज राय धूपचंडी ने जहां बीएसएफ के बर्खास्त जवान तेज बहादुर को पार्टी का अधिकृत प्रत्याशी बताया और समाजवादी पार्टी के ऑफिशियल ट्विटर पेज से इसका ट्वीट भी किया गया। वहीं शालिनी यादव के साथ नामंकन स्थल पर पहुंचे जिला अध्यक्ष पीयूष यादव ने शालिनी को समाजवादी पार्टी का अधिकृत प्रत्याशी बताया।

नामांकन करके बाहर निकली शालिनी यादव से जब पत्रकारों ने पूछा कि आप ने किस सिम्बल पर नामांकन किया तो उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देश पर मैंने समाजवादी पार्टी के सिम्बल पर अधिकृत प्रत्याशी के रूप मे पर्चा दाखिल किया है। नामांकन प्रक्रिया में कुछ बदलाव की वजह से हमें इंतज़ार करना पड़ा और नामांकन में देर लगी।

विज्ञापन

उनसे जब पूछा गया कि तेज बहादुर यादव को मनोज राय धूपचंडी लेकर आये थे और समाजवादी पार्टी के सिम्बल पर उनका नामांकन करवाया है तो उन्होंने कहा कि मुझे जानकारी नहीं है। मैंने फार्म A और B दोनों भरे हैं। तेज बहादुर जी के विषय में मुझे कुछ नहीं पता इसलिए मै कुछ नहीं बोलूंगी।

वहीं उनसे जब कहा गया की क्या आप नाम वापस लेंगी यदि ऐसा कुछ होता है तो, इसपर उन्होंने पहले कहा कि मै क्यों लूंगी नाम वापस मै अधिकृत प्रत्याशी हूं, फिर बाद में कहा कि जो राष्ट्रीय अध्यक्ष जी फैसला करेंगे उसपर निर्णय लिया जाएगा।

इस सम्बन्ध में जब सपा के जिलाध्यक्ष डॉ पीयूष यादव से बात की गयी तो उन्होंने कहा कि सपा की अधिकृत प्रत्याशी शलिनी जी हैं और उन्होंने नामांकन भी किया है। यदि कोई फैसला लिया जाता है पार्टी की तरफ से तो वह राष्ट्रीय अध्यक्ष जी के पास सुरक्षित है।

देखें वीडियो, नामांकन के बाद मीडिया से क्या बोलीं शालिनी यादव

विज्ञापन
Loading...