नारस। समाजवादी सरकार में मंत्री रहे सुरेंद्र पटेल की शालिनी पटेल को लेकर नाराज़गी आज सबके सामने आ गयी। पराड़कर स्मृति भवन में प्रेस को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि मैंने राष्ट्रीय अध्यक्ष को भी यह बात बता दी है और आप को भी बता रहा हूं कि मैं यदि समाजवादी पार्टी से शालिनी यादव होती हैं उम्मीदवार तो मैं उनका चुनाव प्रचार नही करूंगा।

पूर्व मंत्री सुरेंद्र पटेल ने कहा कि वाराणसी लोकसभा सीट पर प्रधानमंत्री के विरुद्ध किसे उम्मीदवार बनाया जाए इसके लिए मुझे चार बार उन्होंने लखनऊ बुलाया और कहा कि पटेल जी किसे बनाया जाए। इस पर मैंने उन्हें अवगत कराया था कि संयुक्त और सशक्त कैंडिडेट उतारा जाए।

विज्ञापन

सुरेंद्र पटेल ने कहा कि 22 अप्रैल को राष्ट्रीय अध्यक्ष जी ने कांग्रेस छोड़कर आयी शालिनी यादव को पार्टी ज्वाइन कराई और 23 को उन्हें टिकट दे दिया।इस पर मैंने अध्यक्ष जी को कहा कि आप पुनः विचार कर लें क्योंकि मैं शालिनी यादव का प्रचार नही करूँगा ।

सुरेंद्र पटेल ने इस पर कहा कि उन्होंने मुझसे 29 तारीख तक कोई भी फैसला लेने से रोका और कहा कि 29 तारीख का इंतज़ार करें । इसके बाद कल शालिनी यादव और तेज बहादुर ने पार्टी सिम्बल पर पर्चा भरा और दोनों खुद को पार्टी प्रत्याशी बता रहे हैं। ऐसे में यदि शालिनी उम्मीदवार होंगी तो मैं उनका प्रचार नही करूँगा ।

उन्होंने कहा कि यदि असली देशभक्त और चौकीदार चुनाव लड़ेगा तो हम उसका समर्थन करेंगे और देश के नकली चौकीदार हटाएंगे।

वहीं समाजवादी पार्टी छोड़कर अन्य पार्टी में जाने के सवाल पर सुरेंद्र ने कहा कि लोग कह रहे हैं कि सुरेंद्र पटेल भाजपा ज्वाइन करेंगे तो वो ये सुन लें की सुरेंद्र पटेल मर जाएगा पर समाजवादी पार्टी छोड़कर भाजपा नहीं ज्वाइन करेगा।

विज्ञापन
Loading...