कैसे करें वोट, पढ़ें मतदान करने से पहले जानने वाली हर जरूरी बात

0
107

नारस। लोकसभा चुनाव के लिये 12 मई (छठे चरण) और 19 मई (सातवें चरण) को वाराणसी जिले में वोटिंग होगी। अगर आप भी वाराणसी जिले के मतदाता हैं, खासकर अगर आप पहली बार मतदान करने जा रहे हैं और वोट देने की प्रक्रिया के बारे में कन्फ्यूज हैं, तो परेशान होने की जरूरत नहीं। हमने इस आर्टिकिल के नीचे जो जानकारियां दी हैं, उन्हें पढ़ के आप भी भलीभांति समझ जाएंगे कि आपको अपना मतदान कैसे करना है और मतदान के दौरान किन किन बातों का विशेष ध्‍यान रखना है।

यहां विशेष ध्‍यान देने वाली बात ये है कि अगर आपका नाम वोटर लिस्‍ट में होगा तभी आप वोट देने के लिये मान्‍य होंगे। वोटर लिस्‍ट में आपका नाम है या नहीं ये जानने के लिये आप चुनाव आयोग की वेबसाइट के इस लिंक (यहां क्‍लिक करें) पर जाकर चेक कर सकते हैं। वोट देने से पहले आपको अपने पोलिंग बूथ, चुनाव लड़ रहे प्रत्‍याशियों के नाम और वोटिंग सिंबल, मतदान की तारीख और समय के साथ साथ अपने पहचान पत्र के विभिन्‍न ऑप्‍शन्‍स के बारे में जानकारी होना जरूरी है।

तो आइए, जानते हैं वाराणसी में चुनाव संबंधित महत्‍वपूर्ण जानकारियां।

  1. वाराणसी जिले में तीन लोकसभा सीटें हैं, जो कि इस जिले की आठ विधानसभा सीट (वाराणसी उत्‍तरी, वाराणसी दक्षिणी, वाराणसी कैंटोन्‍मेंट, रोहनियां, सेवापुरी, पिंडरा, शिवपुर और अजगरा) में बंटी हुई हैं।
  2. वाराणसी जिले में तीन लोकसभा सीटों के नाम हैं – (क) वाराणसी लोकसभा सीट, (ख) चंदौली लोकसभा सीट (ग) मछली शहर लोकसभा सीट।
  3. वाराणसी लोकसभा सीट में जिले की पांच विधानसभाएं (वाराणसी उत्‍तरी, वाराणसी दक्षिणी, वाराणसी कैंटोन्‍मेंट, रोहनियां और सेवापुरी) आती हैं।
  4. चंदौली लोकसभा सीट में वाराणसी जिले की दो विधानसभाएं (अजगरा और शिवपुर) आती हैं।
  5. मछलीशहर लोकसभा सीट में वाराणसी जिले की एक विधानसभा (पिंडरा) आती है।
  6. वाराणसी लोकसभा सीट में कुल 18,54,541 मतदाता है। इनमें 10,24,965 पुरुष मतदाता और 8,29,458 महिला मतदाता हैं।
  7. चंदौली लोकसभा सीट में वाराणसी जिले के कुल 7,07,932 मतदाता है। इनमें 3,85,587 पुरुष मतदाता और 3,22,334 महिला मतदाता हैं।
  8. मछलीशहर लोकसभा सीट में वाराणसी जिले के कुल 3,51,274 मतदाता हैं। इनमें 1,91,129 पुरुष मतदाता और 1,60,127 महिला मतदाता हैं।
  9. वाराणसी और चंदौली लोकसभा सीट के लिये चुनाव की तारीख है 19 मई 2019 ।
  10. मछलीशहर लोकसभा सीट के लिये चुनाव की तारीख है 12 मई 2019।
  11. मतदान का समय सुबह 7 बजे से शाम 5 बजे तक निर्धारित है।


पोलिंग बूथ पर वोटिंग की प्रक्रिया

  1. सबसे पहले आपको वोटिंग के दिन तय समय के भीतर अपने निर्धारित पोलिंग बूथ पर जाना होगा।
  2. यहां पोलिंग अधिकारी उनके पास मौजूद वोटर लिस्‍ट में आपका नाम चेक करेंगे और उस नाम को आपके पहचान पत्र के साथ मिलान करेंगे।
  3. नाम मिलान होने के बाद दूसरे पोलिंग अधिकारी आपके बाएं हाथ की तर्जनी उंगली में नीले रंग की अमिट स्‍याही लगाएंगे।
  4. यहां आपको आपके नाम की एक स्‍लिप दी जाएगी और आपसे रजिस्‍टर में फॉर्म 17ए पर हस्‍ताक्षर कराया जाएगा।
  5. आपको मिली हुई स्‍लिप लेकर आप तीसरे पोलिंग अधिकारी के पास जाएंगे, जो उस स्‍लिप को अपने पास रख लेंगे। साथ ही आपकी उंगलियों पर लगी अमिट स्‍याही की जांच करेंगे।
  6. यहां से आपको पोलिंग बॉक्‍स की ओर भेजा जाएगा, जहां तीन तरफ से ढंकी हुई इलेक्‍ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (EVM) रखी हुई होगी।
  7. ईवीएम मशीन में क्रम से प्रत्‍याशियों के नाम, उनकी तस्‍वीर और चुनावी सिंबल दिखायी देंगे। इस लिस्‍ट में सबसे नीचे ‘नन ऑफ दि एबभ’ यानी नोटा (NOTA) का बटन दिखेगा, इसका अर्थ हुआ कि आपको ईवीएम में दर्शाया गया कोई भी उम्‍मीदवार पसंद नहीं है।
  8. आपको ईवीएम मशीन में अपनी पसंद के प्रत्‍याशी के नाम के आगे या फिर नोटा बटन के आगे मौजूद नीले रंग के बटन को दबाना है।
  9. बटन दबाते ही आपको बीप की आवाज सुनायी देगी। इसका अर्थ हुआ कि आपने अपना वोट दे दिया है।
  10. इसके बाद आपको ईवीएम के बगल में रखी हुई वोटर वैरिफाइड पेपर ऑडिट ट्रेल यानी वीवीपैट मशीन (VVPAT) के एक पारदर्शी भाग स्‍लिप दिखायी देगी, जिसमें आपके द्वारा चुने गये प्रत्‍याशी का सीरियल नंबर, नाम और उसका चुनावी सिंबल दिखायी देगा। ये स्‍लिप सात सेकेंड तक आपके सामने दिखेगी उसके बाद स्‍लिप वीवीपैट मशीन के ड्रॉप बॉक्‍स में सुरक्षित कर ली जाएगी।
  11. यहां अपके मतदान की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी और आप को पोलिंग बूथ के बाहर आ जाना है।
  12. ध्‍यान देने वाली बात ये है कि मतदान केंद्र के भीतर मोबाइल, कैमरा या अन्‍य इलेक्‍ट्रॉनिक उपकरण ले जाना वर्जित है।
  13. इस बार वाराणसी के निर्वाचन अधिकारियों की ओर से दिव्‍यांग मतदाताओं के लिये विशेष व्‍यवस्‍थाएं की जा रही हैं।
  14. मतदान केंद्रों पर स्‍थानीय पुलिस और सीआरपीएफ, आरएएफ के जवानों का तगड़ा सुरक्षा पहरा होगा, जिससे सुरक्षित मतदान सम्‍पन्‍न हो सके।

  • वोटर लिस्‍ट और इलेक्‍टोरल रोल में नाम होने की जानकारी के लिये राष्‍ट्रीय मतदाता सेवा पोर्टल की वेबसाइट electoralsearch.in पर जाकर सर्च कर सकते हैं।
  • साथ ही वोटर हेल्‍पलाइन नंबर : अपना एसटीडी कोड के साथ 1950 डायल करके भी जानकारी हासिल की जा सकती है।
  • इसके अलावा एसएमएस के जरिये भी वोटर लिस्‍ट में नाम होने की जानकारी ली जा सकती है। इसके लिये आपको अपने मोबाइल के मैसेज बॉक्‍स में जाकर लिखना है ECI फिर स्‍पेस देना है फिर अपना EPIC Noयानी इलेक्‍टर्स फोटो आईडेंटिटी कार्ड जिसे सामान्‍य भाषा में वोटर आईडी कार्ड भी कहते हैं, का नंबर लिखना होगा। इसे आपको 1950 नंबर पर सेंड करना होगा। उदाहरण के लिये अगर आपका EPIC नंबर 12345678 है तो आपको लिखना होगा ECI 12345678 इसे 1950 नंबर पर भेज देना होगा।
  • आप भारत निर्वाचन आयोग के ऐप ”वोटर हेल्‍पलाइन ऐप” को भी अपने स्‍मार्टफोन में इंस्‍टाल करके मतदान संबंधित सभी जानकारियां हासिल कर सकते हैं।

यहां क्‍लिक करके डाउनलोड करें वोटर हेल्‍पलाइन ऐप।


प्रत्‍याशियों के बारे में जानकारी के लिये

अपने लोकसभा सीट से प्रत्‍याशियों के बारे में जानकारी (नाम, उम्र, शिक्षा, सम्‍पत्‍ति, आपराधिक रिकॉर्ड आदि) प्राप्‍त करने के लिये भारत निर्वाचन आयोग की वेबसाइट के सब डोमेन https://affidavit.eci.gov.in/ पर जाकार या अपने स्‍मार्टफोन में Voter Helpline App इंस्‍टॉल करके प्राप्‍त कर सकते हैं।


वोट कहां डालें (पोलिंग बूथ की जानकारी के लिये)

आप चुनाव आयोग की वेबसाइट electoralsearch.in पर जाकर अपना पोलिंग बूथ पता कर सकते हैं। आप वोटर हेल्‍पलाइन ऐप को अपने स्‍मार्टफोन में इंस्‍टाल करके भी आप अपने पोलिंग बूथ के बारे में जानकारी ले सकते हैं। आप अपने एसटीडी कोड के साथ 1950 पर कॉल कर के भी अपना पोलिंग बूथ जान सकते हैं। साथ ही पोलिंग बूथ के बारे में अपने मोबाइल फोन के मैसेज बॉक्‍स में जाकर <ECIPS> स्‍पेस <वोटर आईडी नंबर> लिखकर 1950 पर सेंड करके भी जानकारी हासिल कर सकते हैं।


पहचान के लिये ये 12 दस्‍तावेज हैं मान्‍य

मतदान के दिन आप चुनाव आयोग द्वारा मान्‍यता प्राप्‍त निम्‍नलिखित 12 दस्‍तावेजों में से किसी एक को साथ लाकर अपना वोट बड़ी ही आसानी के साथ दे सकते हैं। ये दस्‍तावेज हैं –

  1. EPIC (वोटर आईडी कार्ड),
  2. पासपोर्ट,
  3. ड्राइविंग लाइसें,
  4. केंद्र सरकार, प्रदेश सरकार, पब्‍लिक सेक्‍टर युनिट, पब्‍लिक लिमिटेड कंपनी की ओर से जारी फोटो युक्‍त सर्विस आइडेंटिटी कार्ड,
  5. फोटो युक्‍त बैंक अथवा पोस्‍ट ऑफिस का पासबुक,
  6. पैन कार्,
  7. नेशनल पॉपुलेश रजिस्‍टर (NPR) के अंतर्गत रजिस्‍ट्रार जनरल ऑफ इंडिया की ओर से जारी स्‍मार्ट कार्ड,
  8. मनरेगा (महात्‍मा गांधी नेशनल रूरल एम्‍प्‍लॉयमेंट गारंटी) का जॉब कार्ड,
  9. श्रम मंत्रालय की ओर से जारी हेल्‍थ इंश्‍योरेंस स्‍मार्ट कार्ड,
  10. फोटो युक्‍त पेंशन डॉक्‍युमेंट,
  11. सांसद, विधानसभा सदस्‍य और विधान परिषद सदस्‍य का ऑफिसियल आइडेंटिटी कार्ड,
  12. आधार कार्ड।