वाराणसी : क़र्ज़ में डूबे पिता ने तीन बच्चियों संग लगाया मौत को गले

0
97

नारस। लक्सा थानाक्षेत्र के गीता मंदिर के पास उस समय सनसनी फ़ैल गयी जब एक पिता ने अपनी तीन बेटियों के साथ ज़हर खाकर जान दे दी। ज़हर खाने की जानकारी पर परिजनों ने बीती रात सभी को पहले कबीरचौरा और फिर ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया था, जहाँ सभी की इलाज के दौरान मौत हो गयी। फिलहाल मौके पर पहुंची पुलिस घटना की जांच कर रही है। परिजनों के अनुसार मृतक के ऊपर क़र्ज़ का बोझ था। वहीं आस पड़ोस के लोग आईपीएल में सट्टेबाज़ी की बात भी कर रहे हैं।

इस सम्बन्ध में मृतक दीपक कुमार गुप्ता की भतीजी साक्षी ने बताया कि कल रात चाचा जी की तीन बेटियां आस्था (10 वर्ष ), मान्या (8 वर्ष) और रिया (6 वर्ष) बाहर आँगन में सोए हुए थे। चाचा जी आये और उन्हें कमरे मे ले गए उठाकर। उसके बाद वो दादी के कमरे में टीवी देखने लगे। कुछ देर बाद छोटी वाली बेटी आयी और दादी से बोली की पापा ने हमें कुछ पीला दिया है।

इस पर दादी कमरे में गयी और तीनों बच्चों को और चाचा जी को उठाकर अपने साथ लेकर बाहर आयी। चाचा जी टौयलेट चले गए और बच्चियों को उलटी शुरू हो गयी। तुरंत तीनों बच्चियों को लोग कबीरचौरा लेकर भागे। इधर चाचा जी भी टायलेट से निकलकर बेसुध ज़मीन पर गिर गए। उन्हें लेकर भी लोग कबीर चौरा गए। वहां चारों की तबियत बिगड़ते देख नव्या के मामा सबको ट्रामा सेंटर ले गए जहाँ सबकी मौत हो गयी है। घटना की रात मृतक की पत्नी मायके गयी हुई थी।

इस सम्बन्ध में एसपी सिटी दिनेश कुमार सिंह ने बताया कि लक्सा थाना क्षेत्र के गीता मंदिर के पास रहने वाले 30 वर्षीय दीपक गुप्ता जो की ठेले पर रुमाल, बनियान आदि बेचने का कार्य करते थे ने बीती रात अपनी तीन बेटियों संग ज़हर खा लिया। इन सभी की मौत बीएचयू ट्रामा सेंटर में इलाज के दौरान हो गयी है।

सभी का पंचायतनामा करवाकर पोस्टमार्टम करवाया जा रहा है। वहीं उन्होंने बताया कि मृतक अपनी पत्नी को कल ही मायके छोड़ के आया था जिससे ये लग रहा है कि ये एक प्लानिंग का हिस्सा था। वही जब एसपी सिटी से पूछा गया कि क्या कुछ क़र्ज़ और आईपीएल सट्टेबाज़ी का मामला है तो उन्होंने कहा कि जांच की जा रही है अभी तक ऐसी कोई बता प्रकाश में नहीं आयी है। जांच के बाद स्थिति साफ़ होगी।

देखें वीडियो