नारस। 15 मई 2018 की शाम वाराणसी की जनता आखिर कैसे भूल सकती है, जब निर्माणाधीन चौकाघाट-लहरतारा फ्लाईओवर का स्पाइन बीम अचानक नीचे आ गिरा। 20 जिंदगियों को लीलने वाले इस हादसे को याद करके बनारस में आज भी लोग सिहर उठते हैं। बुधवार को उस दर्दनाक हादसे की पहली बरसी है। ऐसे में वाराणसी पहुंचे यूपी के उप मुख्‍यमंत्री और लोक निर्माण विभाग के मंत्री केशव प्रसाद मौर्य से जब Live VNS के ब्‍यूरोचीफ विपिन सिंह ने इसे लेकर सवाल पूछा तो मंत्रीजी को शायद कोई जवाब ही नहीं सूझा।

बता दें कि 15 मई 2018 की शाम को कैंट-लहरतारा मार्ग पर स्‍थित पंडित कमलापति त्रिपाठी इंटर कॉलेज के सामने निमार्णाधीन फ्लाईओवर का कई टन वजनी स्‍पाइन बीम अचानक नीचे आ गिरा था। जिस वक्‍त स्‍पाइन बीम नीचे गिरा उस समय नीचे से गुजर रही गाड़ियां इसकी चपेट में आ गयीं। देखते ही देखते वहां हर तरफ चीख-पुकार मच गयी। बाद में एनडीआरएफ और सेना के जवानों ने मिलकर जब किसी प्रकार उस भारी भरकम बीम को हटाया तबतक 18 जिंदगियां मौत की आगोश में आ चुकी थीं और आखिर तक ये आंकड़ा 20 लोगों की दर्दनाक मौत तक पहुंच गया।

विज्ञापन

15 मई को इस दु:खद घटना को एक साल होने जा रहे हैं। ऐसे में सवाल उठना लाजमी है कि आखिर हादसा कहे जाने वाले इस लापरवाही भरे कृत्‍य में आखिर कौन दोषी था। इसी सवाल को जब यूपी के उप मुख्‍यमंत्री और लोक निर्माण विभाग के मंत्री केशव प्रसाद मौर्य के सामने रखा गया तो उन्‍होंने बिना कोई उत्‍तर दिये चुनाव प्रचार का वक्‍तव्‍य दे डाला।

आप भी सुनें चौकाघाट पुल हादसे के बारे में पूछे गये सवाल का मंत्री जी ने क्‍या जवाब दिया।

विज्ञापन
Loading...