बनारस में गरजीं मायावती, कहा- ‘जो व्यक्ति अपनी पत्नी का नहीं हुआ वो आपका क्या होगा’

0
87

नारस। सीर गोवर्धन में आयोजित गठबंधन की महारैली में बसपा सुप्रीमो मायावती ने भाजपा और कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। नरेंद्र मोदी और अमित शाह पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि गठबंधन से गुरु चेला परेशान हैं और सभी के चेहरे लटक गए हैं। मायावती ने अपने भाषण में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की धर्मपत्नी को लेकर भी व्यक्तिगत हमला बोला है।

कांग्रेस को भी कोसा
मायावती ने गठबंधन की महारैली में अपने उद्बोधन में कहा कि मैं कांग्रेस के बारे में कहना चाहती हूं कि देश की आजादी के इसी कांग्रेस ने अधिकतर राज्यो में और केंद्र में सरकारों ने गलत नीतियों के कारण सभी जगहों की सत्ता से हाथ धोना पड़ा। मयावती ने कहा कि यूपी में भी लंबे वक्त तक कांग्रेस सत्ता में रही लेकिन इन्होंने न गरीबी दूर की न ही किसानों पर ध्यान दिया बाबा अम्बेडकर ने देश के दबे कुचले लोगो के लिए लड़ाई लड़ी दलितों की लड़ाई लड़ने को बीएसपी का गठन हुआ।

कहा- दलितों का शोषण कर रही बीजेपी
उन्होंने कहा कि अगर कांग्रेस ने पूरी निष्ठा से काम किया होता तो सपा-बसपा को गठबंधन बनाने की जरूरत नही पड़ती। आज देश मे बीजेपी संघ व पूंजीवादी गलत नीतियों के कारण ही बीजेपी सत्ता से बाहर होगी। मोदी ने गरीबो को सिर्फ झूठे वादे किए। इनका समय सिर्फ पूँजीवादी लोगों को और धनवान बनाने और ग़रीबों को इनकी चौकीदारी करने में लगाया। कांग्रेस की तरह ही बीजेपी ने किसी वर्ग का विकास नही किया, आरक्षण प्रभावहीन बना दिया है। दलितों का शोषण आज भी हो रहा है। अल्पसंख्यक समुदाय की हालत भी खराब है। उन्होंने कहा कि जिन राज्यो में आज बीजेपी की सरकार है वहा इन जातियों पर जुल्म हो रहा है

गंगा मइया देंगी बीजेपी को सजा : मायावती
मायावती ने आरोप लगाया कि देश की सीमा आज भी सुरक्षित नहीं है जिसके कारण आतंकी हमले होते हैं। बीजेपी इन चीजों को आज चुनावी मुद्दा बना रही है। उन्होंने कहा कि बनारस को समार्ट बनाने के वादे पर मोदी विफल है। मंदिर तोड़े गए है बनारस में, गंगा की सफाई पूरे देश में होनी थी, लेकिन लाखो खर्च के बाद भी गंगा साफ नही हुई। इसलिए बीजेपी को गंगा मैया सजा देंगी और सत्ता छीन लेगी, जिस गंगा ने पिछली बार आशीर्वाद दिया तो जब आज इन्होंने गंगा से किया वादा नही निभाया तो वह इनको सत्ता से हटा भी देंगी।

भाजपा के घोषणापत्र के बहकावे में न आएं : मायावती
मायावती ने भाजपा पर हमलावर होते हुए कहा कि बीजेपी वादा ख़िलाफ़ी करने में आगे है ।वाराणसी और पूर्वांचल की जनता इनसे जवाब मांग रही है और जनता इनको हराकर इसका जवाब देगी। उन्होंने उपस्थित लोगों का आह्वान करते हुए कहा कि सत्ता पाने के लिए सभी पार्टियां साम दाम दंड भेद अपना रही हैं। इनके चुनावी घोषणापत्र के बहकावे में न आएं।

हम 6 हजार नहीं नौकरी देंगे : मायावती
उन्होंने कहा कि हमारी सरकार 6 हजार रुपये महीने की जगह सरकारी और गैर सरकारी संस्थानों में स्थायी नौकरी देने का काम होगा। उन्होंने कहा कि देश हित मे गठबंधन को वोट दें ताकि पूरे देश मे ‘सर्वजन हिताय सर्वजन सुखाय’ की सरकार चला सके। उन्होंने कहा कि सपा प्रमुख ने भी गठबंधन के कैंडिडेट्स को जिताने में जुटे हैं, यदि आप यह चाहते हैं कि हम सरकार बनाये तो हर सीट एक एक सीट जिताये।

मोदी पर किये व्यक्तिगत हमले
वहीं प्रधानमंत्री पर तंज़ कस्ते हुए उन्होंने कहा कि पीएम अपनी जाति कभी पिछड़ी, कभी फ़क़ीर कभी गरीब बताते हैं, मोदी जन्मजात पिछड़े वर्ग के नही हैं। गुजरात में सरकार रहते हुए जुगाड़ से खुद को पिछड़े वर्ग में शामिल करवा लिया था। यह अगड़े वर्ग के हैं। ये सिर्फ पिछड़े वर्ग के वोटों की राजनीति कर रहे हैं, जबकि पिछड़े तो अखिलेश हैं।

आखिरी चरण में जहां भी मोदी की जनसभा है तो महिलाओं का आदर सम्मान याद आ रहा है। मेरा कहना है दूसरे की बहन बेटी का आदर संम्मान छोड़ो, जो व्यक्ति अपनी पत्नी का आदर न करे वो दूसरे की बहन बेटी का क्या आदर करेगा।

देखें वीडियो, वाराणसी की रैली में मायावती का पूरा भाषण