कांग्रेस में शामिल हुए पूर्व मंत्री विरेन्‍द्र सिंह, पूर्व एमएलसी राजदेव सिंह और पूर्व सांसद आनंद रत्‍न मौर्य

0
671

नारस। भाजपा के कद्दावर नेता और चंदौली संसदीय सीट से तीन बार के सांसद रहे आनंद रत्न मौर्या और बीएसपी पूर्व एमएलसी राजदेव सिंह, पूर्व मंत्री रहे वीरेंद्र सिंह ने कांग्रेस का दामन थाम लिया। वाराणसी पहुंचे कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर ने खजुरी स्थित चुनाव कार्यालय में सभी को पार्टी की सदस्‍यता दिलायी।

बसपा नेता वीरेंद्र सिंह ने इसे घर वापसी बताया तो वहीं आनंदरत्न मौर्या ने कहा कि देश सेवा करने का अवसर अब कांग्रेस में ही है। राजदेव सिंह ने कहा कि 28 साल बीएसपी में रहने के बाद महसूस हुआ कि कांग्रेस ही देश का विकास कर सकती है।

राजबब्बर ने कहा कि आगामी 23 मई को सत्ता बदल जाएगी। उन्होंने कहा कि हर जगह से इसके सन्देश मिलने शुरू हो गए हैं कि कांग्रेस मज़बूती के साथ बढ़त बना रही है। राज बब्‍बर ने पश्‍चिम बंगाल हिंसा पर भी सवाल उठाये और इसे बाहरियों का काम बताया।

पश्चिम बंगाल में चुनावी हिंसा के संबंध में उन्होंने कहा कि इसे सुनियोजित ढंग से फैलाया गया है। ‘भाटा-भाटी’ सेना का जिक्र करते हुए उन्होंने आरोप लगाया कि इसमें बाहरी लोग शामिल हैं, जिनका उद्देश्य हिंसा फैलाकर चुनावी लाभ उठाना था। बंगाल का कोई भी निवासी ईश्‍वर चंद विद्यासागर की प्रतिमा नहीं तोड़ सकता। राजबब्बर ने कहा कि कुछ का सब कुछ 23 मई तक समाप्त हो जाएगा।