नारस। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शपथ ग्रहण से पहले बाबा विश्वनाथ का दर्शन करने और काशी के मतदाताओं का आशीर्वाद लेने के लिए वाराणसी पहुंचे हैं। विश्वनाथ मंदिर में दर्शन पूजन के बाद प्रधानमंत्री वापस पुलिस लाइन के लिए निकल गए। उनके जाते ही काशी विश्वनाथ मंदिर से मैदागिन तक सड़कों के दोनों ओर भगवा कलर के लगाए गए गुबारों को आना बनाने की बनारसियों में होड़ लग गयी।

कुछ ही देर में पूरा इलाका दीपावली के पटाखों की आवाज़ सरीखा गुंजायमान हो गया। कोई उछलकर तो कोई कैंची से काटकर गुब्बारा अपना बनाता दिखा। इसमें आपसी नोक झोक भी दिखाई दी। यह वह लोग थे जो कुछ देर पहले प्रधानमंत्री को देखने के लिए बेताब थे और जैसे ही प्रधानमंत्री का काफिला उनके पास से गुजर गया तो सड़क के दोनों ओर लगाए गए भगवा गुब्बारों को खुद ही खींचकर तोड़ दिया और अपने अपने घर ले जाने लगे आलम यह था कि गुब्बारे को लेकर रस्साकशी भी हुई और लोगों में नोकझोंक भी हुई।

विज्ञापन

एक बनरसी से उसके इसकी वजह पूछी गयी तो उसने खाती बनारसी अंदाज़ में कहा कि मोदी जी गईलन अब कौन काम एकर। रास्ता चलती महिलाएं भी गुबरा लेकर जाती दिखी।

विज्ञापन
Loading...