नारस। भू-माफियाओं के खेल में आम आदमी तो अक्सर फंसता नज़र आता है पर उनके जाल में अक्सर संभ्रांत लोग भी फंसते नजर आते हैं। ताज़ा मामला वाराणसी के कैंट थानाक्षेत्र का जहां उस समय कल अजीबो-गरीब स्थिति उत्पन्न हो गयी जब गाजीपुर के एसपी सिटी प्रदीप कुमार ने अपनी पुश्तैनी ज़मीन पर एक महिला द्वारा धोखे से अपने नाम करवाने की तहरीर दी। पुलिस ने तथ्यों की जांच के बाद उक्त महीले विरुद्ध धोखाधड़ी, कूटरचना सहित एनी आरोपों में मुकदमा दर्ज किया है।

इस सम्बन्ध में गाजीपुर के एसपी सिटी, एडिशनल एसपी प्रदीप कुमार ने बताया कि मेरी औढे गांव में पुश्तैनी ज़मीन एक महिला ने राजस्व विभाग की मिलीभगत से अभिलेखों में अपना नाम दर्ज करवा लिया है। उन्होंने बताया कि उनका परिवार न्यू कालोनी ककरमत्ता क्षेत्र में रहता है और उनकी रोहनिया के औढे ग्राम में 0.132 हेक्टेयर ज़मीन में पुश्तैनी मकान है। पिता जी की मृत्यू के बाद जून 2018 में उनकी पुश्तैनी ज़मीन पर कबीरचौरा निवासी गीता देवी ने अपना नाम अभिलेखों में दर्ज करवा लिया।

विज्ञापन

एडिशनल एसपी प्रदीप कुमार के अनुसार गीता देवी ने अपने घर का एड्रेस सही नहीं लिखवाया है बैनामा सम्बंधित कागजात में, साथ ही मेरे पिता और गवाहों के दस्तखत भी नहीं है, जिनके दस्तखत हैं वो मेरे पिता जी के पहले ही मर चुके हैं। प्रदीप ने थाने में दी एप्लीकेशन में यह आशंका जताई है कि किसी भू माफिया ने गीता देवी के नाम का फायदा औथाकर उनकी ज़मीन हड़पने की कोशिश की है।

विज्ञापन
Loading...
www.livevns.in का उद्देश्‍य अपनी खबरों के माध्‍यम से वाराणसी की जनता को सूचना देना, शि‍क्षि‍त करना, मनोरंजन करना और देश व समाज हित के प्रति जागरूक करना है। हम (www.livevns.in) ना तो कि‍सी राजनीति‍क शरण में कार्य करते हैं और ना ही हमारे कंटेंट के लिए कि‍सी व्‍यापारि‍क/राजनीतिक संगठन से कि‍सी भी प्रकार का फंड हमें मि‍लता है। वाराणसी जिले के कुछ युवा पत्रकारों द्वारा शुरू कि‍ये गये इस प्रोजेक्‍ट को भवि‍ष्‍य में और भी परि‍ष्‍कृत रूप देना हमारे लक्ष्‍यों में से एक है।