गाजीपुर के एसपी सिटी की पुश्तैनी ज़मीन वाराणसी में महिला ने कराई अपने नाम, मुकदमा दर्ज

0
612

नारस। भू-माफियाओं के खेल में आम आदमी तो अक्सर फंसता नज़र आता है पर उनके जाल में अक्सर संभ्रांत लोग भी फंसते नजर आते हैं। ताज़ा मामला वाराणसी के कैंट थानाक्षेत्र का जहां उस समय कल अजीबो-गरीब स्थिति उत्पन्न हो गयी जब गाजीपुर के एसपी सिटी प्रदीप कुमार ने अपनी पुश्तैनी ज़मीन पर एक महिला द्वारा धोखे से अपने नाम करवाने की तहरीर दी। पुलिस ने तथ्यों की जांच के बाद उक्त महीले विरुद्ध धोखाधड़ी, कूटरचना सहित एनी आरोपों में मुकदमा दर्ज किया है।

इस सम्बन्ध में गाजीपुर के एसपी सिटी, एडिशनल एसपी प्रदीप कुमार ने बताया कि मेरी औढे गांव में पुश्तैनी ज़मीन एक महिला ने राजस्व विभाग की मिलीभगत से अभिलेखों में अपना नाम दर्ज करवा लिया है। उन्होंने बताया कि उनका परिवार न्यू कालोनी ककरमत्ता क्षेत्र में रहता है और उनकी रोहनिया के औढे ग्राम में 0.132 हेक्टेयर ज़मीन में पुश्तैनी मकान है। पिता जी की मृत्यू के बाद जून 2018 में उनकी पुश्तैनी ज़मीन पर कबीरचौरा निवासी गीता देवी ने अपना नाम अभिलेखों में दर्ज करवा लिया।

एडिशनल एसपी प्रदीप कुमार के अनुसार गीता देवी ने अपने घर का एड्रेस सही नहीं लिखवाया है बैनामा सम्बंधित कागजात में, साथ ही मेरे पिता और गवाहों के दस्तखत भी नहीं है, जिनके दस्तखत हैं वो मेरे पिता जी के पहले ही मर चुके हैं। प्रदीप ने थाने में दी एप्लीकेशन में यह आशंका जताई है कि किसी भू माफिया ने गीता देवी के नाम का फायदा औथाकर उनकी ज़मीन हड़पने की कोशिश की है।