IPL सट्टेबाज़ी का क़र्ज़ चुकाने के लिए रची 6 लाख लूट की कहानी, पुलिस ने खोला राज़

0
86

नारस। सोमवार की दोपहर नक्खीघाट पुल के समीप युवक से 6 लाख रूपये की लूट की खबर मिलते ही पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। तुरंत ही मौके पर क्राइम ब्रांच प्रभारी विक्रम सिंह, जैतपुरा थानाध्यक्ष शशिभूषण राय और एसपी सिटी दिनेश सिंह एसएसपी आनंद कुलकर्णी के साथ भारी फ़ोर्स सहित मौके पर पहुँच गए। इस मामले में भुक्तभोगी ने खुद पर मिर्ची पाउडर फेक कर लूट की घटना को अंजाम देने की बात कही पर जाँच में मिर्ची पाउडर न मिलने पर पुलिस और क्राइम ब्रांच ने युवक से कड़ाई से पूछताछ की तो वह टूट गया और उसने क़ुबूल लिया किआईपीएल सट्टेबाज़ी में हुए क़र्ज़ को उतारने के लिए ये कहानी गढ़ी थी। फिलहाल पुलिस ने युवक को गिरफ्तार कर लिया है और उसके दोस्त की तलाश कर रही है जिसके पास उसने पैसे रखवाए हैं।

शराब कारोबारी का था पैसा
शराब कारोबारी महेश जायसवाल ने रविवार को अपने ममेरे भाई आर्यन जायसवाल को 6 लाख रूपये बैंक में जमा करवाने के लिए दिए थे और एक कर्मचारी साथ ले जाने को कहा था, लेकिन आर्यन ने मना कर दिया और कहा कि अकेले ही पैसा जमा करवा दूंगा।

रची लूट की साजिश
सोमवार को पैसा लेकर निकले आर्यन ने 11 बजकर 30 मिनट पर डायल 100 पर फोन किया और बताया कि उसके साथ बाइक सवारों ने मिर्ची पाउडर डालकर 6 लाख रूपये लूट लिए हैं। मौके पर भारी पुलिस फ़ोर्स और आला अधिकारी पहुंचे। आर्यन ने उन्हें बताया कि बाइक पर सवार दो युवक आये थे मिर्ची पाउडर फेक पैसे लूट ले गए।

पुलिस ने शुरू की जांच
पुलिस ने अपनी जांच शुरू की तो घटनस्थल पर मौजूद दुकानों के लोगों ने बताया कि उक्त युवक वहां खड़ा तो था पर लूट जैसी कोई घटना नहीं हुई ना ही कोई शोर हुआ। इसके अलावा आर्यन के सर या किसी अन्य जगह मिर्ची पाउडर नहीं मिला। पुलिस ने सीसीटीवी फुटज भी चेक किया तो सारंग तालाब तक आर्यन की पीठ पर पैसों का बैग था।

पुलिस की पूछताछ में आया तथ्य सामने
पुलसि ने अब शक की बिनाह पर आर्यन से पूछताछ शुरू की तो वह 3 घंटे बाद टूट गया और उसने सट्टेबाज़ी के कारज और अपने फुफेरे भाई का क़र्ज़ उतरने के लिए झूठी लूट की कहानी रचने की बात स्वीकार ली। उसने बताया कि पैसा उसके दोस्त मनीष के पास पांडेयपुर में हैं।

पुलिस ने आर्यन को गिरफ्तार करते हुए मनीष के घर पर दबिश दी तो मनीष नहीं मिला और नाही पैसा मिला। पुलिस को रुपयों का बैग मनीष के घर से बरामद हुआ है। पुलिस के अनुसार जल्द ही मनीष को गिरफ्तार करते हुए पैसों को रिकवर कर लिया जाएगा।