नारस। गुरुवार को को एकबार फिर रोडवेज़ पर डग्गामार बसों का मामला गरमा गया। मामला हाथापाई के बाद चक्काजाम तक पहुंचा। मौके पर पहुंची सीओ चेतगंज अंकिता सिंह ने किसी तरह मामले को समझा बुझाकर शांत किया और दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई का आश्वासन दिया। मामला रोडवेज परिसर के पास से डग्गामार बसों के संचालन और यात्रियों की खिचातान को लेकर शुरू हुआ था।

इस सम्बन्ध में रोडवेज कर्मचारी नेता अरविन्द मिश्रा ने बताया कि आये दिन प्राइवेट और डग्गामार वाहन चालाक अपने वाहन को रोडवेज परिसर के सामने से यात्रियों को ज़बरदस्ती खीचकर ले जाते हैं और अपनी गाड़ी भी यहां लगाते हैं। उनसे रोडवेजकर्मी विरोध करते हैं तो उनसे हाथापाई, मारपीट और गालीगलौज करते हैं। इसी परिपेक्ष्य में आज आरटीओ और विभागीय चेकिंग चल रही थी।

विज्ञापन

उसी के दौरान कुछ प्राइवेट डग्गामार बस कर्मियों ने रोडवेज कर्मचारियों के पर हमला कर दिया जिसमे एआरएम काशी, एआरएम कैंट और कई अधिकारियों को चोट आयी है। इस मामले में दुसरे पक्ष से भी दो लोग घायल हुँए हैं। इस घटना की सूचना हमने थाना सिगरा और सीओ चेतगंज को दिया।

उन्होंने बताया कि हाईकोर्ट और प्रमुख सचिव की गाइडलाइन है कि रोडवेज से एक किलोमीटर दूर प्राइवेट बस अड्डा होगा लेकिन यहाँ ऐसा नहीं होता। उन्होंने  आरोप लगाया कि रोडवेज चौकी इंचार्ज रिज़वान बेग और उनके सिपाही साथ ही रोडवेज ट्रैफिक पिकेट के पुलिसकर्मी इसमें संलिप्त हैं। ये लोग खुलेआम पैसे लेते हैं और इसका दम्भ भरते हुए प्राइवेट वाहन स्वामी धड़ल्ले से बिना परमिट और नंबर के गाड़ियां चला रहे हैं।

वहीं इस घटना के बाद मौके पर पहुंची सीओ चेतगंज अंकिता सिंह ने रोडवेज कर्मियों द्वारा लगाए गए जाम को छुड़वाया। उन्होंने कहा कि पूर्व में भी सूचना मिली थी और मैंने खुद उसे ऑब्ज़र्व किया था कि रोडवेज पर डग्गामार वाहनों का जमावड़ा रहता है। आज रोडवेज कर्मियों और प्राइवेट बस मालिकों में सवारी को बैठाने को लेकर हाथापाई हुई है। इसकी जांच कर दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी।

वहीं जब उनसे पूछा गया कि रोडवेज चौकी इंचार्ज, और चौकी के सिपाहियों के साथ साथ ट्रैफिक कर्मियों के द्वारा वसूली कर उनकी शह पर यह डग्गमार वाहन चल रहे हैं का आरोप रोडवेज कर्मी लगा रहे हैं पर कहा कि विभागीय जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी।

देखिए वीडियो 

देखिये तस्वीरें 

 

विज्ञापन
Loading...
www.livevns.in का उद्देश्‍य अपनी खबरों के माध्‍यम से वाराणसी की जनता को सूचना देना, शि‍क्षि‍त करना, मनोरंजन करना और देश व समाज हित के प्रति जागरूक करना है। हम (www.livevns.in) ना तो कि‍सी राजनीति‍क शरण में कार्य करते हैं और ना ही हमारे कंटेंट के लिए कि‍सी व्‍यापारि‍क/राजनीतिक संगठन से कि‍सी भी प्रकार का फंड हमें मि‍लता है। वाराणसी जिले के कुछ युवा पत्रकारों द्वारा शुरू कि‍ये गये इस प्रोजेक्‍ट को भवि‍ष्‍य में और भी परि‍ष्‍कृत रूप देना हमारे लक्ष्‍यों में से एक है।