नारस। मंगलवार रात एक 9 दिन की बच्चे को खून देकर जान बचाने वाले चेतगंज थाने के आरक्षी राकेश सरोज को गुरूवार को आईजी रेंज विजय सिंह मीणा ने अपने कार्यालय में प्रशस्ति पात्र देकर सम्मानित किया। इस दौरान उन्होंने बताया कि उक्त आरक्षी के लिए डीजी कमंडेशन डिस्क की भी संस्तुति की गयी है। इस मौके पर राकेश सरोज ने कहा कि यह कार्य मैंने मानवता के नाते किया है और आगे भी मौक़ा मिलने पर करता रहूंगा।

बता दें कि बिहार के रहने वाले मोहम्मद अशरफ हुसैन के भाई के बच्चे की हालत खराब होने के बाद उसे हम लोग उसे सासाराम ले गए जहाँ से उन्होंने कहा कि आप उसे बनारस लेकर जाइये। यहां आकर डाक्टरों ने कहा कि ब्लड चाहिए। उसे लेने आये आईएमए में तो यहाँ मुझे इंकार कर दिया क्योंकि मेरी आँख का ऑपरेशन हुआ था। हम बहुत परेशान हुए डोनर के लिए पर नहीं मिला तो हम आईएमए के पास रो रहे थे।

विज्ञापन

हम थाने से की तरफ से होते हुए चौराहे की तरफ बढे तो एक आदमी थाने से बाहर निकले और बोले तो वो चार पुलिसकर्मी को लेकर आये। उनमे से एक पुलिसकर्मी राकेश सरोज ने ब्लड डोनेट किये जिससे बच्चे की जान बच सकी। इस कृत्य के बाद से राकेश उत्तर प्रदेश पुलिस के हीरो बनकर उभरे हैं।

विज्ञापन
Loading...
www.livevns.in का उद्देश्‍य अपनी खबरों के माध्‍यम से वाराणसी की जनता को सूचना देना, शि‍क्षि‍त करना, मनोरंजन करना और देश व समाज हित के प्रति जागरूक करना है। हम (www.livevns.in) ना तो कि‍सी राजनीति‍क शरण में कार्य करते हैं और ना ही हमारे कंटेंट के लिए कि‍सी व्‍यापारि‍क/राजनीतिक संगठन से कि‍सी भी प्रकार का फंड हमें मि‍लता है। वाराणसी जिले के कुछ युवा पत्रकारों द्वारा शुरू कि‍ये गये इस प्रोजेक्‍ट को भवि‍ष्‍य में और भी परि‍ष्‍कृत रूप देना हमारे लक्ष्‍यों में से एक है।