नारस। जनपद में लगतार थानों में मोबाइल खो जाने। गई जाने और छूट जाने के शिकायती पत्र मिलते रहते हैं। इन मोबाइलों की रिकवरी के लिए एसएसपी आनंद कुलकर्णी के आदेश पर एसपी क्राइम ज्ञानेंद्र नाथ प्रसाद द्वारा क्राइम ब्रांच की सर्विलांस टीम ने करीब 6 लाख रूपये मूल्य के मोबाइल बरामद किये हैं। ये मोबाइल फोन सोमवार को एसएसपी आननद कुलकर्णी ने पुलिस लाइन सभागार में उनके मालिकों के सुपुर्द किये। मोबाइल वापस पाकर मोबाइल मालिकों के चेहरे ख़ुशी से खिल उठे। सभी ने एक साथ वाराणसी पुलिस को थैंक्यू कहा।

इस सम्बन्ध में एसएसपी आनंद कुलकर्णी ने बताया कि जनपद में मोबाइल के छूट जाने, गिर जाने और चोरी हो जाने की घटनाओ सम्बंधित प्रार्थना पत्र उच्चाधिकारियों के कार्यालयों, थानों और ऑनलाइन पर पड़ती रहती हैं। इन मोबाइल की रिकवरी के लिए क्राइम ब्रांच के सर्विलांस प्रभारी राजीव रंजन उपाध्याय के नेतृत्व में एक टीम गति कर मोबाइल रिकवर कराये गए हैं और उन्हें आज उनके मालिकों को सुपुर्द किया गया है।

विज्ञापन

इस सम्बन्ध में सर्विलांस प्रभारी राजीव रंजन उपाध्याय ने बताया कि मोबाइल की संख्या ज़्यदा होने की वजह से यह मुश्किल टास्क था लेकिन हमने टीम गठित कर 50 मोबाइल रिकवर कराये हैं। इनमे 8 हज़ार से लेकर 30 हज़ार मूल्य के मोबाइल हैं, जिनकी कुल कीमत 6 लाख रूपये के करीब है।

मोबाइल बरामद करने में सर्विलांस प्रभारी राजीव रंजन उपाध्याय, मुख्य आरक्षी ज्ञानेंद्र कुमार, कांस्टेबल विवेकमणी त्रिपाठी, कांस्टेबल संतोष पासवान, कांस्टेबल दिवाकर वत्स, कांस्टेबल अनुग्रह वर्मा, कांस्टेबल संतोष यादव, कांस्टेबल गौरव यादव, कांस्टेबल मंटू सिंह, कांस्टेबल पंकज कुमार, कांस्टेबल अश्विनी सिंह, कांस्टेबल मनीष कुमार, कांस्टेबल विराट सिंह एवं महिला आरक्षी पिंकी गौड़ ने मुख्य भूमिका निभाई।

 

विज्ञापन
Loading...
www.livevns.in का उद्देश्‍य अपनी खबरों के माध्‍यम से वाराणसी की जनता को सूचना देना, शि‍क्षि‍त करना, मनोरंजन करना और देश व समाज हित के प्रति जागरूक करना है। हम (www.livevns.in) ना तो कि‍सी राजनीति‍क शरण में कार्य करते हैं और ना ही हमारे कंटेंट के लिए कि‍सी व्‍यापारि‍क/राजनीतिक संगठन से कि‍सी भी प्रकार का फंड हमें मि‍लता है। वाराणसी जिले के कुछ युवा पत्रकारों द्वारा शुरू कि‍ये गये इस प्रोजेक्‍ट को भवि‍ष्‍य में और भी परि‍ष्‍कृत रूप देना हमारे लक्ष्‍यों में से एक है।