साथ में संवाददाता ध्यानचंद शर्मा

नारस। राजकीय निर्माण निगम के वाराणसी कार्यालय में महाप्रंबधक पद पर तैनात एस के तायल की सड़क दुर्घटना में मौत हो गयी। इस दुर्घटना में महाप्रबंधक के ड्राइवर की भी मौत हो गयी। इस दुर्घटना में एक अन्य व्यक्ति गंभीर रूप से घायल है।

विज्ञापन

इस खबर के वाराणसी पहुँचते ही वाराणसी राजकीय निर्माण निगम के कार्यालय में सन्नाटा पसर गया वहीँ उनकी पत्नी को जब यह सूचना मिली तो उनकी तबियत बिगड़ गयी। महाप्रबंधक लखनऊ में आज होने वाली उपमुख्यमंत्री की मीटिंग में शामिल होने के लिए लखनऊ जा रहे थे।

मोहनलालगंज में हुआ हादसा
राष्ट्रीय निर्माण निगम के महाप्रबंधक एसके तायल लखनऊ में होने वाली उप मुख्यमंत्री की शहर विकास योजना को लेकर समीक्षा बैठक में शामिल होने के लिए अपने वाहन चालक व सहायक व्यक्ति के साथ कार द्वारा जा रहे थे। मोहनलालगंज के गौरा गांव मार्ग में अचानक से तेज गति से आ रही ट्रक ने पीछे से धक्का मार दिया जिससे कार बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गयी। मौके पर पहुची स्थानीय भीड़ ने पुलिस को घटना की जानकारी देते हुए सूचित किया। घटना की जानकारी मिलते ही पहुची पुलिस ने तत्काल सभी को गाड़ी से बाहर निकाल कर अस्पताल पहुचाया जहा डॉ ने एसके तायल व वाहन चालक को मृत घोषित कर दिया।

कार्यालय पर पसरा सन्नाटा
इस दुखद घटना से पूरे लोग स्तब्ध व गमगीन हैं। किसी को यकीन ही नहीं हो रहा कि ऐसा वास्तव में हुआ है। उनके स्टाफ व कर्मचारियों व सहायक अधिकारियों से जब बात की गयी तो सभी के आंखों में आंसू थे कोई भी व्यक्ति ठीक प्रकार से बोल नही पा रहा था।ऑफिस के कंप्यूटर ऑपरेटर कर्मचारी ने रुंधे गले से बताया कि आज उप मुख्यमंत्री की वाली समीक्षा बैठक में शामिल होने आ रहे थे महाप्रबंधक एसके तायल जा रहे थे।रास्ते से फोन भी कर रहे थे कि निर्देश देने के लिए की तुरन्त कागज तैयार होना चाहिए जैसे ही मैं मांगू तो दे देना। बहुत व्यव्हारिक, मिलनसार प्रवित्ति के थे। किसी मे भेदभाव नही करते थे।

अभिवावक की तरह थे तायल साहब
इस सम्बन्ध में वाराणसी निगम कार्यालय के स्टाफ ऑफिसर ओपी सिंह ने बताया कि एसके तायल बहुत ही जिम्मेदार, कर्मठ व्यक्तित्व के थे। सभी के प्रति स्नेह रखते थे। ऐसा लग रहा है कि हमारे बीच से कोई अपना चला गया। अभिभावक की तरह थे हम सभी के लिए वो, उनका जाना अपूरणीय क्षति हैं।

मुख्यमंत्री ने जताया शोक
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी राजकीय निर्माण निगम के महाप्रबन्धक एसके तायल तथा वाहन चालक जय नारायण के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। अपने शोक संदेश में मुख्यमंत्री ने कहा कि एसके तायल एक योग्य और कर्मठ अधिकारी थे। उन्होंने निष्ठापूर्वक अपने दायित्वों का निर्वहन किया। उनकी सेवाओं को सदैव याद रखा जाएगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दिवंगत आत्मा की शांति की प्रार्थना करते हुए शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी संवेदनाएं व्यक्त की हैं।

विज्ञापन
Loading...