सिगरा : आत्मसमर्पण से पहले ही वाराणसी पुलिस ने किया हत्या में वांछित को गिरफ्तार

0
222

नारस। 26 जून को सिगरा थानाक्षेत्र के परेड कोठी इलाके के एक होटल में युवती की लाश मिलने से सनसनी फ़ैल गयी थी। पुलिस ने इसे प्रथम दृष्टया हत्या का मामला बताया था। होटल में उसके साथ रुके देवरिया जनपद के अमिश तिवारी को आज सिगरा पुलिस ने वाराणसी न्यायलय में आत्मसमर्पण करने से पहले गिरफ्तार कर लिया। पकडे गए अभियुक्त ने युवती की हत्या का कारण शादी का दबाव बनान बताया है। फिलहाल पुलिस युवक को सम्बंधित धाराओं में जेल भेजकर अग्रिम कार्रवाई में लग गयी है।

कैंट स्टेशन के पास परेड कोठी इलाके में स्थित होटल में मिली युवती के शव के बाद जांच में लगी पुलिस ने मुख्य अभियुक्त को आज गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार युवक को पुलिस लाइन में मीडिया के सामने पेश करते हुए एसपी सिटी दिनेश कुमार सिंह ने बताया कि उसी दिन हमें यह मामला प्रथम दृष्टया ह्त्या का लगा था। इसकी तस्दीक फारेंसिक टीम ने भी की थी।

उक्त युवती एक युवक जो की देवरिया का रहें वाला था उसके साथ होटल में पूर्व में भी एक बार रूक चुकी थी। इस सम्बन्ध में हमने जांच शुरू की और सर्विलांस की मदद से अभियुक्त का पता लगाकर दो टीमें देवरिया जनपद भेजी थी। उक्त युवक इस मामले में आज न्यायलय में समर्पण की फिराक में था उसी समय पुलिस द्वारा पकड़ लिया गया।

एसपी सिटी ने बताया कि है कि उसका उक्त युवती से काफी दिनों से सम्बन्ध था और वो उससे अब शादी के लिए दबाव बना रही थी। इस दबाव से परेशान होकर उसका गला दबाकर हत्या कर दी। फिलहाल हम सभी पहलुओं पर ध्यान देकर आगे की कार्रवाई कर रहे हैं।

वहीं अभियुक्त अमिश तिवारी ने बताया कि उक्त लड़की से उसका पुराना सम्बन्ध था क्योंकि वह उसके गाँव के पास ही रहती है। कई बार वो दोनों होटल में मिल चुके थे। युवक ने बताया कि उस लड़की के कई लोगों से सम्बन्ध थे और उसके बाद भी वो मुझसे शादी करने का दबाव बना रही थी। उस दिन भी उसने कमरे में शादी के लिए दबाव बनाया। मैंने मना किया तो उसने मुझसे मारपीट शुरू कर दी और कहा कि तुम्हे भी मार दूँगी और खुद भी मर जाउंगी। इसी में मैंने उसका गला दबा दिया और उसकी मौत हो गयी।

देखिये वीडियो