बनारस। मंगलवार को इंडियन डेंटल एसोसिएशन के वाराणसी शाखा के सचिव टैगोर टाऊन निवासी डॉक्टर आलोक सिंह की पत्नी और स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ रीना सिंह की सीढ़ियों से गिरने से मौत हो गयी। इस आकस्मिक मृत्यु से शहर के डाक्टरों में शोक की लहार फ़ैल गयी थी। अब इस घटना में नया मोड़ आ गया है।

रीना की मौत की खबर सुनकर जब रीना के भाई, बहन और परिजन डॉ आलोक के घर पहुंचे तो सच्चाई सामने आगयी। इन सभी ने आरोप लगाया कि डॉ आलोक की दो बेटियां थी और पिछले 14 साल से वो मेरी बहन को बेटे के लिए प्रताड़ित कर रहे थे। फिलहाल महिला के परिजनों की तहरीर पर एसपी सिटी ने डॉक्टर रीना सिंह के दुबारा पोस्टमार्टम की संस्तुति की है। वहीं घर का कल का सीसीटीवी फुटेज भी कब्ज़े में लिया है।

विज्ञापन

मंगलवार को दर आलोक सिंह कि उनकी पत्नी रीना सिंह सीढ़ियों से गिरकर सुबह घायल हो गयी थी। इसपर उन्हें इलाज के लिए पांडेयपुर स्थित निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां उनकी शाम में मौत हो गयी थी। इस सूचना अपर आज जब लड़की के परिजन पहुंचे तो उन्होंने आरोप लगाना शुरू कर दिया। डॉ रीना सिंह की बहन संध्या सिंह ने बताया कि मेरी बहन को मार दिया गया, जब से उसकी शादी हुई थी तब से उसे प्रताड़ित किया जाता था।

हमेशा उन्हें एक ही बात थी की बेटा चाहिए क्योंकि मेरी दीदी को दो बेटियां हैं। साल भर पहले भी इन्होने उसे सीढ़ी से धक्का दिया था जिससे उसका पैर टूट गया था।संध्या ने साफ़ शब्दों में कहा कि हमें न्याय चाहिए क्योंकि मेरी बहन को मारा गया है।

वहीं इस सूचना पर मौके पर पहुंचे एसपी सिटी दिनेश कुमार सिंह ने घटना के दिन का सीसीटीवी फुटेज अपने कब्ज़े में ले लिया है। उन्होंने बताया कि कल हमें सूचना मिली की डाक्टर आलोक की पत्नी की मौत सीढ़ी से गिरकर हो गई। इस पर नियंतथ पंचायतनामा भरकर उनका पीएम किया गया। वहीं आज परिजन आये तो उन्होंने आरोप लगाया है कि वो गिरी नहीं गिराया गया है, जिससे उनकी मौत हो गयी। वो दुबारा से पोस्टमार्टम चाहते हैं हमने तहरीर मांगी है और सीएमओ से बात की है उन्होंने कहा है कि हम मेडिकल बोर्ड गठित कर पोस्टमार्टम करवा लेंगे। उसके बाद सभी तथ्यों पर जांच के बाद आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।

विज्ञापन
Loading...