मेडिकल स्टूडेंट्स के लिए फरिश्ता बने अभिनेता सोनू सूद, किर्गिस्तान से वाराणसी पहुंचे भारतीय छात्र

वाराणसी। कोरोना काल में रियल हीरो बनकर सामने आये अभिनेता सोनू सूद इस वक़्त देश ही नहीं दुनिया के लिए फ़रिश्ते से कम नहीं हैं। इसी रियल हीरो की मदद से कल एक बार फिर कोरोना काल में अपनों से दूर फसे लोग अपने वतन लौट पाए। सोनू सूद की पहल पर स्पाइस जेट के चार्टेड विमान से गुरुवार की रात 135 मेडिकल स्टूडेंट जो की पूर्वांचल और बिहार के रहने वाले हैं किर्गिस्तान से वाराणसी एयरपोर्ट पहुंचे।

वतन वापसी की ख़ुशी के साथ सभी स्टूडेंट के चेरे पर सोनू सूद के लिए जो प्यार और सम्मान था उसे शायद ही कोई समझ पायेगा।

कोरोना में रील लाइफ़ के विलेन ने रियल लाइफ में हजारों प्रवासी मजदूरों के लिए हीरो बनकर दिखाया। जी हां हम बात कर रहे है देश के चहेते बने सोनू सूद की जिन्होंने एक बार फिर कुछ ऐसा किया है जिसे जानकर हर भारतीय को गर्व हो रहा है। दरसल किर्गिस्तान में फंसे 135 भारतीय छात्रों को सोनू सूद के मदद के बाद भारत वापस लाया गया। यह छात्र देर रात वाराणसी के लाल बहादुर शास्त्रीय अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर पहुंचे।

एमबीबीएस के लास्ट ईयर के छात्र काशिफ ने बताया कि कोरोना वायरस की वजह से वह पिछले 4 महीने से किर्गिस्तान में फंसे हुए थे। हम वहां से लगातार भारतीय एम्बेसी से संपर्क कर रहे थे पर हमें कोई जवाब नहीं दिया जा रहा था। इसके बाद हमने रियाल हीरो अभिनेता सोनू सूद को ट्वीट कर अपनी परेशानी बताई। उन्होंने तीन दिन के अंदर हम सभी के लिए चार्टेड प्लेन का इंतज़ाम किया और आज हम अपने वतन पहुँच गए हैं।

काशिफ ने सरकार से मांग की कि कोरोना की वैक्सीन बनाने की ज़िम्मेदारी भी सून सूद सर को दी जाए ताकि वो उसे बनाये। वो बनाएंगे तो एक महीने में ये वैक्सीन तैयार कर ली जाएगी।

सिद्धार्थ नगर की रहने वाली एमबीबीएस छात्रा सायला बानों ने बताया कि पिछले 4 महीनों से हमारी क्लासेज़ बंद है। अब वहां हमें बहुत दिक्कत हो रही थी। भारतीय एम्बेसी से आज कल के लिए कहा जा रहा था। हमने सोनू सूद सर को ट्वीट किया तो उन्होंने रिप्लाई कर हमसे वीडियो चैट पर बात की सके बाद हमारी समस्या जानी और आज हम यहाँ हैं।

बता दें कि किर्गिस्तान से फ्लाइट टेक ऑफ़ करने के पहले सोनू सूद ने फ्लाइट में सवार छात्रों से उनका हाल चाल वीडियो काल से लिए। स्पाइस जेट ने इस वीडियो काल का वीडियो अपने ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया है।

उत्तर प्रदेश, बिहार समेत भारत के कई राज्यों के छात्र मेडिकल की पढ़ाई करने के लिए किर्गिस्तान में स्थित एशियन मेडिकल इंस्टीट्यूट में जाते हैं। कोरोना संक्रमण में लॉकडाउन के चलते अंतरराष्ट्रीय विमान सेवाएं बंद होने से किर्गिस्तान में मेडिकल छात्र फंसे हुए हैं। वहां छात्रों को तमाम परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था जिसको लेकर छात्रों द्वारा ट्वीट करने के साथ वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर शेयर कर मदद मांगी गई थी ।

देखें वीडियो